कुशवाहा का बड़ा बयान, नीतीश को बताया पीएम मैटेरियल, कहा जातीय जनगणना जरूरी

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| जदयू नेता उपेंद्र कुशवाहा ने एक बड़ा बयान देते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पीएम मैटेरियल बताया है. जेडीयू संसदीय दल के नेता ने कहा है कि नीतीश कुमार भी प्रधानमंत्री बनने की काबिलियत रखते हैं.

रविवार को कुशवाहा बिहार यात्रा पर निकलने के पहले मीडिया से मुखातिब हुए थे. उन्होंने कहा कि वैसे तो पीएम नरेंद्र मोदी अच्छा काम कर रहे हैं, लेकिन उनके अलावा और भी लोग प्रधानमंत्री बनने की काबिलियत रखते हैं. कुशवाहा ने कहा कि इनलोगों में नीतीश कुमार भी एक नाम है क्योंकि वे पीएम मैटेरियल हैं.

दोहराई जातीय जनगणना की मांग

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने जातीय जनगणना को लेकर अपनी बात दोहराई. उन्होंने कहा कि जातीय जनगणना को लेकर देश के स्तर पर एक माहौल बनाने की जरूरत है. 2021 में जनगणना होनी है, हो सकता है कोरोना के कारण थोड़ा विलंब हो पर अगर इस साल नहीं हुआ तो फिर दस साल इंतजार करना होगा. तब तक बहुत नुकसान हो जाएगा.

जातियों की संख्या जानना जरूरी

उपेंद्र कुशवाहा ने मीडिया से कहा कि बीजेपी और जेडीयू दोनों अलग-अलग पार्टियां हैं. दोनों में कई मुद्दों पर राय भी अलग-अलग हैं. राय अलग होने का मतलब यह थोड़े न है कि दोनों पार्टियों में खटपट है.

Also Read | एक अगस्त से चलेंगी 12 स्पेशल ट्रेनें, देखें लिस्ट

कुशवाहा ने कहा कि जातीय जनगणना के मुद्दे पर हम दोनों पार्टियां अलग-अलग हैं इसमें कहीं कोई दो राय नहीं है. उन्होंने कहा कि धर्म के आधार पर गिनती होती है उसे भी बंद कर देना चाहिए.

जदयू नेता ने कहा कि आज ओबीसी में भी कुछ जाति ऐसी है जो आरक्षण का सबसे ज्यादा लाभ ले रही है. इसके पलट, बहुत सी ऐसी भी जातियां हैं जिन्हें आजतक कोई लाभ नहीं मिला है.

उन्होंने कहा कि एससी में भी कुछ जाति को सरकार के सारे लाभ प्राप्त हैं और बाकी को इसका लाभ नहीं मिल रहा है. इसका लाभ सभी को मिले इसलिए जरूरी है किसकी संख्या कितनी है यह पता किया जाए.