कांग्रेस विधायक ने की बिहार में शराब की बिक्री की मांग

kaangres vidhaayak ne kee bihaar mein sharaab kee bikree kee maang

भागलपुर (TBN रिपोर्ट) | देशभर में कोरोना महामारी की वजह से हाहाकार मचा हुआ है. ऐसे में लॉकडाउन घोषित हो जाने से लोगों को बहुत सारी परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है.

हालांकि राज्य सरकारों ने असहाय, गरीबों और जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए अभियान चलाया है. सभी राजनीतिक दल और समाजसेवी संस्थाएं भी मदद के लिए आगे आयी हैं.

वहीँ बिहार में कांग्रेस के एक विधायक ने नीतीश कुमार से बिहार में शराब की बिक्री शुरू कराने की मांग करते हुए कहा है कि शराब की बिक्री से पैसे के संकट से जूझ रही सरकार को पर्याप्त राशि मिल जायेगी. इस पैसे से सरकार कोरोना से त्रस्त गरीबों की मदद कर पायेगी.

कांग्रेस के विधायक अजीत शर्मा ने आज मीडिया से बात करते हुए कहा कि कोरोना के कारण गरीबों का हाल बेहाल है. सरकार के पास गरीबों की मदद करने को पैसे नहीं है. साथ ही बिहार में सारे रोजगार बंद हैं. सरकार को टैक्स नहीं मिल रहा है. ऐसे में सरकार को शराब की बिक्री शुरू करा देना चाहिये. शराब की बिक्री से सरकार को पर्याप्त पैसे मिल जायेंगे. इससे गरीबों की मदद हो जायेगी. सरकार को गरीबों को अनाज और पैसे देने के लिए राशि मिल जायेगी.

विधायक अजीत शर्मा ने कहा कि नीतीश कुमार बिहार के लोगों को शराब की लत से मुक्त कराना चाहते थे. बिहार में शराबबंदी हुए चार साल हो चुके हैं. ऐसे में जिन्हें शराब की लत लगी थी वो छोड़ चुके हैं. लिहाजा सरकार को शराब पर लगी रोक को हटा लेना चाहिये.

बता दें देश की कई राज्य सरकारों ने शराब की बिक्री शुरू करते हुए शराब पर अतिरिक्त टैक्स लगाया है. दिल्ली में शराब की बोतल पर 70 फीसदी कोरोना स्पेशल फीस लगा दिया गया है. हरियाणा ने भी शराब पर कोविड सेस लगा दिया है.

देशी शराब के क्वार्टर पर 5 रुपए, विदेश शराब पर 20 रुपए, स्ट्रांग बीयर पर 5 रुपए और अन्य बीयर पर 2 रुपए कोविड सेस लगेगा. वहीं, आंध्र प्रदेश ने शराब पर 75 फीसदी और बंगाल ने 30 फीसदी टैक्‍स बढ़ा दिया है. इन राज्यों को शराब से पर्याप्त पैसे आने की उम्मीद है.