तेजस्वी को JDU प्रवक्ता की नसीहत- इस आपदा की घड़ी में तुकबंदी छोड़ दे विपक्ष

फुलवारी शरीफ (TBN रिपोर्ट ) | बिहार में कोरोना और लॉकडाउन जैसी विपत्ति के समय में राजनीतिक दलों की बयानबाजी लगातार जारी है. बयानबाजी के इसी क्रम में बिहार जनता दल यूनाइटेड (जदयू) की प्रदेश प्रवक्ता अंजुम आरा ने राजद के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर हमला करते हुए कहा कि तेजस्वी यादव जी, यह तुकबंदी करने का वक्त नहीं है. आप लोगों की सरकार को बिहार की जनता असफल सरकार के रूप में याद करती है.

आगे उन्होंने कहा कि आप हर मुश्किल घड़ी में बिहार की जनता के बीच में ना होकर प्रवासी बन जाते हैं, कहीं बिहार की जनता आपको असफल विपक्ष न घोषित कर दें. इसलिए आग्रह है, विपक्ष इस आपदा की घड़ी में तुकबंदी छोड़ अपने नैतिक एवं संवैधानिक दायित्वों का सकारात्मक रूप में निर्वहन करें.

अंजुम आरा ने कहा कि तेजस्वी यादव जी, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने न्याय के साथ विकास एवं पारदर्शिता के साथ काम किया है, जिससे बिहार का गौरव एवं आत्मविश्वास लौट आया है, जिसे आपलोगों ने ध्वस्त कर दिया था. आज नीतीश कुमार के कुशल नेतृत्व में कोरोना आपदा का सामना करने के लिए बिहार की तमाम जनता मजबूती से उनके साथ खड़ी है.

आज इस विपत्ति में भी नीतीश कुमार के सशक्त एवं व्यवस्थित कुशल प्रबंधन के कारण ही राज्य में कोरोना संक्रमण रिकवरी रेट 50 प्रतिशत है. बाहर फंसे प्रवासी बिहारियों की कुशल वापसी जारी है. प्रतिदिन हजारों की संख्या में प्रवासी बिहार पहुंच रहे हैं, जिसके लिए बिहार सरकार तत्पर एवं सजग है.

रोजगार हेतु 3.48 लाख योजनाओं में 1 करोड़ 77 लाख 40 हजार मानव दिवस सृजित किया गया है, साथ ही साथ प्रखंडों के क्वारंटाइन केंद्रो में 1 लाख 54 हजार 209 लोग आवासित हैं. जिनका स्वास्थ्य परीक्षण, भोजन, आवासन एवं अन्य सुविधाओं को लेकर मुख्यमंत्री की निरंतर समीक्षा बैठक जारी है.