पूर्णियां के सभी 7 सीटों पर चुनाव लड़ेगी जविपा

पूर्णियां (अनुभव सिन्हा की रिपोर्ट) | 17वीं विधानसभा चुनाव में विभिन्न दलों की नियत और दलितों, महादलितों, अल्पसंख्यक, गरीबों एवं वंचित तबकों की स्थिति पहले की तुलना में ज्यादा साफ होकर सामने आई है.

इस स्थिति से खासकर अपने नाम से, अपने नाम पर हो रही राजनीति से गरीबों दलितों में भारी आक्रोश है और यह वर्ग इस बार परंपरागत राजनीति करने वाले दलों को सबक सिखाने के मूड में है.

मुख्यधारा के राजनीतिक दलों – महागठबंधन और एनडीए से इस तबके का भरोसा टूट रहा है और एक विकल्प के रूप में उनके सामने आई जनतांत्रिक विकास पार्टी की अपील को तरजीह मिल रही है.

जनतांत्रिक विकास पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष संजय मंडल ने पूर्णिया के सभी 7 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा की है और 3 सीटों के लिए उम्मीदवारों को सिंबल दे दिया है. पूर्णिया सदर विधानसभा क्षेत्र से पार्टी ने जिला महासचिव रविंद्र कुशवाहा उर्फ रवि को उम्मीदवार बनाया है जबकि बायसी से मीडिया प्रभारी विकास कुमार उम्मीदवार बनाए गए हैं. अमौर विधानसभा सीट से मोहम्मद अख्तर हुसैन पार्टी के उम्मीदवार घोषित किए गए हैं. शेष चार विधानसभा सीटों के उम्मीदवारों की घोषणा जल्द कर दी जाएगी.

पार्टी के जिलाध्यक्ष शैलेंद्र सुमन ने अपने एक बयान में कहा है कि गरीब, दलित, महादलित, अल्पसंख्यक वर्ग – यह सारा वंचित तबका राजद, जदयू, कांग्रेस, भाजपा जैसी मुख्यधारा की पार्टियों के लिए सिर्फ एक संख्या हैं. इन सबों को इस वर्ग का सिर्फ वोट चाहिए, उनके विकास से उनका कोई वास्ता नहीं है. यही वजह है कि यह सारा तबका अभी भी 1947 की स्थिति में है और बदतर जीवन बसर कर रहा है.