संयुक्त किसान संघर्ष मोर्चा द्वारा आहूत 27 सितम्बर भारत बंद रहा सफल – वामदल

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| वामदल व महागठबंधन ने दावा किया है कि संयुक्त किसान संघर्ष मोर्चा द्वारा आहूत 27 सितम्बर भारत बंद सफल रहा. वामदल द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, तीनों कृषि कानून को रद्द करने, केन्द्र सरकार द्वारा भारत की सार्वजनिक सम्पदा को बेचने पर रोक लगाने, उत्तर बिहार के बाढ़ पीड़ितों को तत्काल राहत एवं पुनर्वास की व्यवस्था करने, वायरल बुखार से पीड़ित बच्चों की जीवन रक्षा के लिये तत्काल कदम उठाने, पेट्रोल, डीजल में बढ़ोतरी को वापस लेने सहित अन्य मांगों को लेकर भारत बंद पूरी तरह पटना सहित पूरे बिहार में सफल रहा.

सोमवार को सी.पी.आई.(एम.) के राज्य सचिव अवधेश कुमार, जिला सचिव मनोज कुमार चंद्रवंशी, सीपीआई राज्य सचिव रामनरेश पांडेय, रामलाला सिंह, भाकपा(माले) के राज्य सचिव कुणाल, धीरेन्द्र झा के अलावा राजद के राज्य अध्यक्ष जगदानंद सिंह, आलोक मेहता, कांग्रेस राज्य अध्यक्ष मदन मोहन झा के नेतृत्व में बुद्ध स्मारक पार्क से जुलूस निकला जो डाक बंगला चौक आकर सभा में तब्दील हो गया.

सभा में संयुक्त किसान संघर्ष मोर्चा के आह्वान पर 27 सितम्बर को “भारत बंद” वामपंथी दलों एवं महागठबंधन दल के सभी जिला इकाइयों एवं स्थानीय इकाइयों ने सड़क पर उतर कर बंद को सफल बनाया.

वक्ताओं ने कहा कि संयुक्त किसान संघर्ष मोर्चा ने भारत बंद के सिलसिले में कृषि के तीन काले कानूनों की वापसी के अलावे मजदूर कानूनों के बदले मजदूर संहिता लागू करने, सार्वजनिक सम्पत्ति को बेचने, महंगाई, बेरोजगारी जैसे तमाम मुद्दों को अपने आंदोलन का हिस्सा बनाया है.

उन्होंने कहा कि बिहार में बाढ़ की विनाश लीला से पूरा उत्तर बिहार तबाह हो गया है. घर-बार, खेत-खलिहान, बगीचे पानी में डूब गये हैं और जान-माल की भयंकर क्षति हुई है. सरकार ने बाढ़ पीड़ितों को भाग्य भरोसे छोड़ दिया है. उसी तरह वायरल बुखार की मार से सैकड़ों बच्चे अस्पतालों में जीवन-मौत की लड़ाई लड़ रहे हैं और राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था उन बच्चों का जान बचाने में अक्षम साबित हुई है. वामपंथी दलों ने इस संबंध में सरकार से मांग की कि वह बाढ़ पीड़ितों को तत्काल सहायता पुनर्वास एवं फसल क्षति का मुआवजा दे.

विज्ञप्ति में कहा गया है कि इन तमाम मुद्दों को लेकर वामपंथी दल लगातार संघर्ष के मैदान में हैं और यह आंदोलन आगे भी जारी रहेगा. सोमवार के इस कार्यक्रम में सीपीआईएम के राज्य सचिव मंडल सदस्य अरुण मिश्रा, गणेश शंकर सिंह, देवेन्द्र चौरसिया, रास बिहारी सिंह, सरिता पांडेय सहित अन्य मौजूद थे.

विज्ञप्ति के अनुसार, बन्द की सफलता को देखते हुए सीपीआईएम राज्य सचिव अवधेश कुमार ने वामपंथी दलों एवं महागठबंधन दल के नेताओ, कार्यकर्ताओं सहित आम जनता को बधाई दी है.