‘फोन कॉल झूठी साबित हुई तो विधायक पद से दे दूंगा इस्तीफा’ – ललन कुमार

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | आरजेडी के जेल में बंद अध्यक्ष लालू प्रसाद पर बिहार में राजग के विधायकों की खरीद-फरोख्त का प्रयास करने और नवगठित नीतीश कुमार सरकार को गिराने का आरोप लगने के बाद राज्य में राजनीतिक तूफान उठ खड़ा हुआ है.

इसपर घटना पर बीजेपी विधायक ललन पासवान ने दावा किया कि लालू प्रसाद यादव ने उन्हें रांची से फोन कर स्पीकर चुनाव में सदन से गैरहाजिर रहने को कहा. उन्होंने कहा कि बीजेपी मेरे लिए मां जैसी है और मैं अपनी मां के साथ कभी धोखा नहीं कर सकता. बीजेपी विधायक ने दावा किया कि अगर यह ऑडियो झूठी हुई तो वह विधायक पद से इस्तीफा दे देगें.

उन्होंने कहा लालू यादव ने फोन किया और कहा कि “स्पीकर का चुनाव है, सरकार गिराना है. तुम सेट हो जाओ. ये सब सुनकर मैं हैरान रह गया. इतना बड़ा नेता लोकतंत्र की हत्या करने के लिए कैसे कह सकते हैं, मैं यह सुनकर हैरान हो गया. मुझे यह भी हैरानी थी कि जेल में होते हुए भी लालू यादव फोन कैसे कर पा रहे हैं.”

भाजपा विधायक ने ऑडियो क्लिप की पुष्टि की और कहा कि सुशील कुमार मोदी की मौजूदगी में बातचीत हुई, जिसका आभास संभवत: राजद सुप्रीमो को नहीं था.

ललन कुमार ने कहा, ‘‘मैं सुशील कुमार मोदी के साथ बैठक में था जब मेरा निजी सचिव आया और सूचित किया कि मेरे मोबाइल पर लालू प्रसाद का फोन है. मुझे आश्चर्य हुआ लेकिन सोचा कि कई अन्य लोगों की तरह उन्होंने चुनावी जीत पर बधाई देने के लिए फोन किया होगा.’’

विधायक ने कहा, ‘‘वह काफी वरिष्ठ नेता हैं. इसलिए मैंने उन्हें प्रणाम किया. वह सरकार गिराने की बात करने लगे. मैंने उन्हें बताने का प्रयास किया कि मैं पार्टी के अनुशासन से बंधा हुआ हूं. फोन बीच में रोकते हुए मैंने सुशील मोदी को सूचित किया.’’

बता दें, ऑडियो में विधायक अपनी पार्टी के खिलाफ वोट करने में अपनी दिक्कतों को बता रहे हैं जिस पर प्रसाद कहते हैं, “आपको चिंतित होने की जरूरत नहीं है. हमारा अपना विधानसभा अध्यक्ष होगा. हम इस सरकार को गिराकर अपनी सरकार बनाते ही आपको पुरस्कृत करेंगे.’’

बता दें, पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कल रात सनसनीखेज दावा किया कि प्रसाद के पास मोबाइल फोन है जिसके माध्यम से वह राजग के विधायकों को फोन कर रहे हैं. उन्होंने अब एक ऑडियो क्लिप जारी की है जिसमें राजद सुप्रीमो और भगवा दल के एक विधायक की कथित बातचीत है.

मोदी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर डेढ़ मिनट की क्लिप साझा की जिसमें प्रसाद को अपने अंदाज में पीरपैंती के विधायक ललन कुमार से बातचीत करते सुना जा सकता है. ऑडियो में प्रसाद को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि हम आपका ठीक से ख्याल रखेंगे, आप कल विधानसभा अध्यक्ष पद के चुनाव में राजग उम्मीदवार को हराने में हमारी मदद कीजिए.

मोदी ने मंगलवार की रात ट्वीट कर दावा किया कि उन्होंने राजद सुप्रीमो को फोन कर “गंदे तरीके” अपनाने के खिलाफ चेतावनी दी. उन्होंने अपनी पार्टी के नेता विजय कुमार सिन्हा के विधानसभा अध्यक्ष निर्वाचित होने पर उन्हें बधाई देते हुए कहा, “लालू प्रसाद का षड्यंत्र विफल हो गया.”

राजद प्रमुख चारा घोटाले के कई मामलों में आजीवन कारावास की सजा भुगत रहे हैं. उपमुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद ने घटना की कड़ी निंदा की.

उन्होंने विधानसभा परिसर में संवाददाताओं से कहा कि वे झारखंड सरकार से कहेंगे कि मामले का संज्ञान ले और जरूरत पड़ने पर इस मामले में उच्चस्तरीय जांच के लिए केंद्र से संपर्क करे. बिहार के मंत्री मुकेश सहनी ने भी इस घटना की कड़ी निंदा की.
(इनपुट – आर भारत)

error: Content is protected !!