एफिडेविट के साथ चुनावी “प्रतिज्ञा पत्र”, कहा 3 साल में नहीं किया पूरा तो दे दूंगा सीएम पद से इस्तीफा

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार में विधानसभा चुनाव की घोषणा और फिर उसके बाद चुनाव प्रक्रिया के कुछ ही दिन बाकि रह गए हैं. सारी राजनैतिक पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है. बिहार विधानसभा चुनाव के गहमा गहमी के बीच अब पूर्व सांसद और जाप के अध्यक्ष पप्पू यादव ने आज बुधवार को चुनावी घोषणा पत्र जारी किया, जिसका नाम “प्रतिज्ञा पत्र” बताया. पप्पू यादव ने इस बार एफिडेविटट के साथ चुनावी घोषणा पत्र जारी किया है.

जाप चीफ पप्पू यादव ने कहा कि जनता ईश्वर के तुल्य है. इसके साथ ही उन्हें ऐलान किया है कि यदि हमारी पार्टी की सरकार बनती है तो अत्यंत पिछड़ा हो या दलित या फिर फॉरवर्ड, हर वर्ग से एक एक डिप्टी सीएम बनाएंगे. इसके साथ ही इस घोषणा पत्र में कहा गया है कि सरकार बनने के छह महीने के अंदर भृष्टाचार को ख़त्म किया जायेगा. उन्होंने अपने “प्रतिज्ञा पत्र” में कहा है कि बिहार के अंदर बालू माफिया, शिक्षा माफिया जेल के अंदर होंगे और कहा है कि यदि वे छह महीने में यह नहीं कर पाएं तो सीएम की कुर्सी से इस्तीफा भी दे देंगे.

और क्या क्या है पप्पू यादव के घोषणा पत्र / “प्रतिज्ञा पत्र” में:

लड़कियों की शादी के लिए 10 लाख रुपये तक लोन दिलवाऊंगा, कोई ब्याज नहीं लगेंगे
सरकार महीने के 28 तारीख को गरीबों को आलू, प्याज, चावल, सरसों तेल देगी.
बेटियों से छेड़खानी करने वाले छह महीने में जेल जायेंगे.
भूमिहीन परिवार को मुफ्त में इलाज मिलेगा.
सभी तरह के स्कैनिंग मुफ्त होगी.
अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्टेडियम बनेगा.
1 लाख करोड़ का इंवेसमेन्ट लाऊँगा.
इन्वेस्ट करने वाली कम्पनियों को 4 महीने के अंदर जमीन दूंगा.
सीमांचल के अंदर फ़ूड प्रोसेसिंग प्लांट लगाएंगे.
फॉर्मा इंडस्ट्री हब बनायेंगे.
2 साल के अंदर शिक्षा हब बनाऊंगा.
रोजगार मेरी प्राथमिकता होगी.
नियोजित, संविदा, वजीत रहित शिक्षकों जैसे शब्द खत्म होंगे.
सभी की परमानेंट नौकरी होगी.
संविधा पर नहीं, सीधी नियुक्ति की जाएगी.
इसके अलावा पप्पू यादव ने कहा कि लालू यादव के नाम से एनडीए अगड़ों को डराने का काम न करे. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि गुजरात का बेटा गुजरात जाए यहां बिहार का बेटा ही चलेगा.