कोरोना से डॉक्टर की मौत, सरकार वर्चुअल रैली करने में मस्त

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार के प्रख्यात चिकित्सक एन.के सिंह और डॉक्टर अश्विनी नंद की कोरोना के कारण मृत्यु पर दुःख प्रकट करते हुए राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि चिकित्सक एन.के सिंह और डॉक्टर अश्विनी नंद की ख़बर सुन कर बहुत व्यथित हूँ. ऐसे संकट के समय में उनके परिवार के प्रति मैं गहरी संवेदना और सहानुभूति प्रकट करता हूँ. इनके असमय चले जाने से चिकित्सा जगत को अपूरणीय क्षति हुई है.

बिहार के दो डॉक्टरों की मृत्यु पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का बिहार सरकार के मंत्रियों एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष के लिए गुस्सा फूट पड़ा है. तेजस्वी ने कहा है कि कोरोना से लड़ते-लड़ते बिहार के दो डॉक्टर शहीद हो गए लेकिन स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय,  उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और बिहार भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल की ओर से कोई संवेदना तक व्यक्त नहीं की गयी है. आगे उन्होंने कहा है कि वैसे सत्ताधारी नेता ताली-थाली,दिये जलाने व पुष्प वर्षा की नौटंकी करते हैं लेकिन डॉक्टरों की मौत के उपरांत ये सभी वर्चुअल रैली करने में मस्त थे.

इसके साथ ही तेजस्वी ने पटना मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (पीएमसीएच) की एक घटना को लेकर कहा है कि पटना महानगर जदयू युवा के प्रवक्ता अमित सिंह के जीजा ने उनकी आंखों के सामने डॉक्टरों की लापरवाही के कारण दम तोड़ दिया. इस युवा जदयू नेता ने अपनी पार्टी के ही तमाम लोगों पर अनदेखी का आरोप लगाया है.