पूर्व महाधिवक्ता का 90 वर्ष में हुआ निधन

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार के पूर्व महाधिवक्ता राम बालक महतो का निधन आज 90 वर्ष की उम्र में हो गया. वह 6 बार राज्य के महाधिवक्ता बने थे. राम बालक महतो का निधन आज मगध मेडिकल अस्पताल में हुआ जहाँ वे पिछले कई महीनो से भर्ती थे. इलाज के दौरान ह्रदय गति रुकने से उनकी मौत हो गई. उनकी मौत पर राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राज्यपाल ने गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए श्रद्धांजलि दी है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि “वे एक प्रसिद्ध कानूनविद और बहुमुखी प्रतिभा के धनी व्यक्ति थे. विधि के क्षेत्र में उन्होंने एक विशिष्ट पहचान बनाई. अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने अनेक महत्वपूर्ण मामलों में राज्य सरकार को कानूनी जीत दिलाई थी. निधन से विधि के क्षेत्र में अपूरणीय क्षति हुई है”.

बताते चलें कि महाधिवक्ता राम बालक महतो बिहार राज्य के सबसे अधिक बाद महाधिवक्ता पद पर आसिन रहे. वह छह बार राज्य के महाधिवक्ता रहे. इनके अलावा कन्हैया प्रसाद वर्मा 2 बार महाधिवक्ता बने. पहली बार 1980 में महाधिवक्ता बने. दूसरी बार 1985-89 तक, तीसरी बार 1990-93 तक और चौधी बार 2010-2015 तक उन्होंने महाधिवक्ता पद संभाला. इसके बाद पांचवीं बार और छठी बार 2015 में भी वह राज्य के महाअधिवक्ता बने.