महागठबंधन के बिखराव का कारण है राजद का अहंकार,सुशील कुमार मोदी ने साधा निशाना

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार में विधानसभा चुनाव नज़दीक है और इसके साथ ही राजनीतिक गलियारे में वार-पलटवार का दौर शुरू है. इसी बीच बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राजद पर निशाना साधा है.

सुशील मोदी ने आरजेडी में चल रही हलचल को लेकर ट्वीट करते हुए लिखा कि राजद के विधान परिषद सदस्य, विधायक, पदाधिकारी एक साथ बड़ी संख्या में पार्टी छोड़ चुके हैं और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अपना इस्तीफा वापस लेने को तैयार नहीं हैं, तो यह पार्टी के बुरा संकेत है.

आगे उन्होंने लिखा है कि जो लोग 15 साल राज करने के नशे की खुमारी से अब तक नहीं उबरे, वे छोड़ जाने वाले अपने साथियों का अपमान भी कर रहे हैं. लालू प्रसाद कि पार्टी और महागठबंधन, दोनों में बिखराव की प्रक्रिया तेज हुई है, तो उसकी वजह केवल राजद का अहंकार है.

राजद के रवैये से अपमानित अनुभव करने के बाद सीनियर दलित नेता जीतनराम मांझी के महागठबंधन से बाहर आने से विपक्ष को जो नुकसान होगा, उसकी भरपायी वामपंथी दलों से हाथ मिलाने से नहीं होगी.

बता दें कि आरजेडी के साथ वाम दलों की बैठक हुई. आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के साथ सीपीआई और सीपीआईएम के नेताओं की बातचीत हुई. वाम दलों के नेताओं ने महागठबंधन के साथ बिहार विधानसभा चुनाव लड़ने की घोषणा करते हुए कहा कि एनडीए को हराने के लिए ये गठबंधन किया गया है.

वाम दलों के नेता राष्ट्रीय हितों से विश्वासघात करते रहे और जिनके लाल झंडों ने बिहार में उद्योग-व्यापार-रोजगार को पनपने नहीं दिया, उनसे चुनावी तालमेल करना कोई काम नहीं आएगा. हिंसा में विश्वास करने वाले कम्युनिस्टों को बिहार पहले ही नकार चुका है.