महागठबंधन में दरार ?

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी गहमागहमी शुरू हो चुकी है. राज्य के सभी राजनीतिक दल चुनावी मैदान में अपने प्रबल दावेदार को सामने लाने में लगे हुए हैं. इसी क्रम में महागठबंधन में खींचतान शुरू हो चुकी है. राजद नेता तेजस्वी यादव के बदले तेवर देखने के बाद हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने एक बार फिर से महागठबंधन से अलग होने के बारे में विचार करने को लेकर बयान जारी किया है.

पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कहा है कि अगर महागठबंधन में बात नहीं बनी तो वो स्वतंत्र निर्णय लेंगे. वो 25 जून को फैसला लेंगे. मांझी की मांग है कि महागठबंधन में को-ऑर्डिनेशन कमिटी बनाई जाए. इसको लेकर वो कई बार महागठबंधन से अलग होने की धमकी भी दे चुके हैं.

जीतन राम मांझी ने कहा कि वो 23 और 24 जून को महागठबंधन के नेताओं से बात करेंगे अगर उसके बाद भी महागठबंधन में को-ऑर्डिनेशन कमिटी की बात पर सहमति नहीं बनती तो वो अपना रास्ता अलग कर सकते हैं.