बिहार में कोरोना के मुफ़्त टीके, तो क्या बाकी पाकिस्तान या बांग्लादेश हैं?- उद्धव

मुंबई / पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | रविवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बिहार के विधान सभा चुनावों से पहले घोषणापत्र में बिहार के सभी निवासियों के लिए नि: शुल्क कोरोनावायरस टीके लगाने के वादे के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की खिंचाई की.

उद्धव ठाकरे आज मुंबई में शिवसेना की वार्षिक दशहरा रैली में बोल रहे थे, जब उन्होंने भाजपा के नेतृत्व वाले केंद्र सरकार पर कई मुद्दों पर हमला करने वाले बयान दिए. ठाकरे ने कहा, “आप बिहार में मुफ्त टीके देने की बात कर रहे हैं. क्या बाकी देश पाकिस्तान या बांग्लादेश हैं? इस तरह बोलने वालों को खुद पर शर्म आनी चाहिए. आप केंद्र में हैं.”

महाराष्ट्र के सीएम ने आगे ‘हिंदुत्व का मुद्दा’ भी उठाया, जिस पर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की ‘धर्मनिरपेक्ष’ टिप्पणी के बाद उन पर गरमागरम बहस हुई थी. उद्धव ने कहा कि “हमसे हिंदुत्व के बारे में पूछा जा रहा है कि हम राज्य में मंदिर क्यों नहीं खोल रहे हैं. वे कहते हैं कि मेरा हिंदुत्व बालासाहेब ठाकरे से अलग है”. उद्धव ने कहा कि आपका हिंदुत्व घंटियों और बर्तनों को बजाने के बारे में है, हमारा हिंदुत्व ऐसा नहीं है.

शिवसेना प्रमुख ने कहा कि जब देश कोविड-19 महामारी (COVID-19 pandemic) के प्रभावों से जूझ रहा था, भाजपा केवल विभिन्न राज्यों में चुनी हुई सरकारों को चुनने में दिलचस्पी ले रही थी. देश भर में एक अजीबोगरीब घटना हो रही है. जहां एक तरफ देशभर में कोविड-19 का प्रतिकूल प्रभाव यहां की अर्थव्यवस्था पर पड़ा है, वहीं केंद्र सरकार का ध्यान अन्य राज्य की सरकारों को परेशान करने पर केंद्रित है. उद्धव ने कहा कि भाजपा ऐसा करके देश में अराजकता को न्योता दे रही है.

उन्होंने कहा कि अब एक साल हो गया है. जिस दिन मैं महाराष्ट्र का सीएम बना था, उस दिन से कहा जा रहा था कि यह राज्य सरकार गिर जाएगी. उद्धव ने केंद्र सरकार को चुनौती देते हुए कहा कि अगर हिम्मत है तो मेरी सरकार को गिराकर दिखाओ.