कांग्रेस अध्यक्ष ने शिक्षकों के वेतन को लेकर CM को लिखा पत्र

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार के नियोजित शिक्षक 17 फरवरी 2020 से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर थे. 4 मई 2020 को शिक्षा विभाग के अनुरोध एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से वार्ता के बाद शिक्षकों ने हड़ताल की समाप्ति की. जिसके बाद 19 मई को हड़ताल अवधि में भी वेतन भुगतान संबंध में आवश्यक निर्देश दिए गए.

इसके बावजूद शिक्षकों के वेतन एवं बकाया भुगतान समय पर नहीं होने के कारण चिंता प्रकट करते हुए बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एक पत्र लिख कर यह आग्रह किया है कि सरकार तुरन्त इसका संज्ञान लेते हुए हर कोटि के शिक्षकों को अविलम्ब उनका वेतन एवं बकाया भुगतान करवाने का कष्ट करें.

डॉ. मदन मोहन झा ने आग्रह किया है कि मासिक वेतन एवं सातवें वेतन के एरियर भुगतान में न्यायालय के आदेशों के आलोक में कोषांग की स्थिति को अंतिम रूप से स्पष्ट कर दिया जाए, तब तक भुगतान पर रोक के आदेश को वापस ले लिया जाय.

बिहार कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि सरकार के शिक्षा विरोधी नीति एवं निर्णयों के कारण बार-बार हर कोटि के शिक्षको को कठिनाईयों से गुजरना पड़ रहा है, चाहे वो वित्तरहित शिक्षक हो या नियोजित शिक्षक हो, या मदरसा के शिक्षक हो, या संस्कृत के शिक्षक हो, या फिर अन्य कोई शिक्षक हो.