कांग्रेस ने दिया पप्पू यादव को बड़ा झटका! JDU बोली- बड़बोला

Patna (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बीते सोमवार को बिहार सरकार के मंत्री श्याम रजक ने RJD का दामन थाम लिया तो वहीं तीन विधायक लालू का साथ छोड़ JDU में आ गये. इस बीच जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा कि चिराग पासवान की LJP, जाप और कांग्रेस पार्टी को मिलाकर एक नया फ्रंट बनाने की तैयारी चल रही है. पप्पू यादव ने कहा कि बिहार की जनता नया विकल्प चाहती है और इस विकल्प को हम लायेंगे. उन्होंने दलित सियासत को लामबंद करने की ओर इशारा करते हुए सोमवार को मुजफ्फरपुर में मीडिया से बात करते हुए कहा, डेढ़ परसेंट (जाति का वोट) वाले नीतीश कुमार जब बिहार का चेहरा हो सकते हैं तो 28 परसेंट वाले चिराग पासवान क्यों नहीं? हालांकि, उन्होंने यह भी कहा नये फ्रंट में कांग्रेस की भूमिका बड़े भाई की होगी. बावजूद इसके पप्पू यादव की उम्मीदों को बड़ा झटका तब लगा जब कांग्रेस ने तीसरे मोर्चे की बात सिरे से खारिज कर दी.

कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने कहा है कि पप्पू यादव या लोजपा से ऐसे किसी भी तीसरे मोर्चे या नये मोर्चे के बारे में कोई बात नहीं हुई है. उन्होंने ये स्पष्ट कहा कि बिहार में तीसरे मोर्चे की कोई जरूरत नहीं है. वहीं, जेडीयू प्रवक्ता संजय सिंह ने भी पप्पू यादव पर तंज कसते हुए कहा है कि बिहार में कुछ ऐसे बड़बोले नेता हैं जो कुछ से कुछ भी बोलते रहते हैं और पप्पू यादव भी उनमें ही शामिल हैं. दूसरी ओर बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने भी एनडीए में जेडीयू-एलजेपी में खींचतान पर कहा कि एनडीए काफ़ी मज़बूत है. समय आएगा तब सीट शेयरिंग की भी चर्चा होगी और चुनाव के वक़्त हम तय करेंगे कि कौन कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगा. जाहिर है बीजेपी अध्यक्ष का बयान यही बताता है कि बिहार में एनडीए इंटैक्ट है.

आपको बता दें कि इससे पहले शनिवार को ये खबर भी आई थी कि शुक्रवार की देर रात चिराग़ पासवान और पप्पू यादव के बीच करीब चार घंटे तक बंद कमरे में मुलाकात हुई थी. तब माना जा रहा था कि अगर पप्पू यादव और चिराग पासवान में बात बनती है तो हो सकता है कि बिहार में कोई थर्ड फ्रंट की भी सूरत बन जाए. जिसमें सपा, बसपा समेत कई छोटे दल शामिल हो सकते हैं. हालांकि, कांग्रेस के शामिल होने की बात कह कर उन्होंने चौंका दिया था. पर अब कांग्रेस ने पप्पू यादव की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है.