सीएम ने कैमूर के ‘रीना देवी मेमोरियल अस्पताल’ का किया उद्घाटन

कैमूर / पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कैमूर जिले के मोहनिया में एन0एच0-2 पर नवनिर्मित ‘रीना देवी मेमोरियल अस्पताल’ का उद्घाटन किया. मालूम हो कि एमएलसी संतोष सिंह की पत्नी स्वर्गीय रीना देवी के आकस्मिक निधन हो जाने के बाद एमएलसी ने हॉस्पिटल का निर्माण कराया था.

इस अस्पताल का खास बात यह है कि यहां मरीजों का इलाज निजी स्वास्थ्य केंद्रों की तुलना में काफी सस्ते दरों पर की जाएगी. आधुनिक चिकित्सकीय सुविधा से पूरी तरह से लैस यह अस्पताल जिले के लोगों के लिए एक मुकम्मल अस्पताल साबित होगी. ऐसा माना जा रहा है कि अब कैमूर व रोहतास के लोगों को जहां इलाज के लिए वाराणसी पटना जाना पड़ता था अब उन्हें रीना देवी मेमोरियल हॉस्पिटल में आसानी से मुकम्मल स्वास्थ सुविधा होगी.

इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वीडियो फिल्म के माध्यम से अस्पताल के हिस्सों और उपकरणों को दिखाया गया है, ये काफी अच्छे हैं. ‘रीना देवी मेमोरियल अस्पताल’ के उद्घाटन के लिए मैं विशेष तौर पर विधान पार्षद संतोष कुमार सिंह को बधाई देता हूं, जिन्होंने अपनी पत्नी की स्मृति में इस अस्पताल का निर्माण कराया है. कुछ दिन पूर्व उनकी पत्नी का असामयिक निधन हो गया था, उस दौरान मैं इनके घर पर भी गया था.

आपको बता दें कि रीना देवी मेमोरियल अस्पताल में 50 बेड की इन्डोर सुविधा है. यहां ओ0पी0डी0, जेनरल मेडिसीन, स्त्री रोग के इलाज, अल्ट्रासाउंड सहित अन्य जांच की सुविधाओं के साथ-साथ एंबुलेंस की व्यवस्था भी की गई है. इस अस्पताल में 10 बेडों का आई0सी0यू0 वार्ड भी बनाया गया है, जहां 6 जीवन रक्षक प्रणाली लगाए गए हैं. साथ ही बच्चों के इलाज के लिए 4 बेड के आई0सी0यू0 की अलग से व्यवस्था की गई है. स्त्री प्रसव के लिए बेहतर इंतजाम किए गए हैं.

सीएम ने कहा कि कोरोना संक्रमण से पीड़ित मरीजों के लिए 10 बेडों के आई0सी0यू0 का अलग से आइसोलेशन वार्ड भी बनाया गया है, जहां जीवन रक्षक उपकरण प्रणाली की सुविधा उपलब्ध है. मुख्यमंत्री ने कहा कि विधान पार्षद संतोष कुमार सिंह का इस अस्पताल के निर्माण के प्रति एक संकल्प का भाव दिखा है, जिसमें गरीबों के इलाज की भी सुविधा रहेगी. मुझे पूरा भरोसा है कि अपने संकल्प के अनुरुप वे काम करेंगे. मेरी शुभकामनायें उनके साथ हैं. इस अस्पताल में सारी सुविधाएं एक जगह मिलने से लोगों को इलाज में सहूलियत होगी.

कार्यक्रम के दौरान वीडियों कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, सभापति बिहार विधान परिषद अवधेश नारायण सिंह, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, विधान पार्षद संतोष कुमार सिंह कई गणमान्य लोग मौजूद रहे.

Advertisements