‘खान सर’ पर केस दर्ज, हो सकती है गिरफ़्तारी !!

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| हाल ही के दिनों में चर्चित हुए पटना के खान सर की मुसीबत बढ़ने (Khan Sir’s troubles are going to increase soon) वाली है. उन पर कानून का शिकंजा जबरदस्त तरीके से कसने वाला है क्योंकि 24 जनवरी से शुरू हुए छात्रों के उग्र आंदोलन के लिए उकसाने का गंभीर आरोप खान सर समेत कुल 6 टीचरों पर लगा है. यह बात पटना के पत्रकार नगर थाना (Patrakar Nagar Police Station of Patna) में दर्ज हुए FIR से स्पष्ट हो चुकी है.

RRB परीक्षार्थी आंदोलन में हिंसक प्रदर्शन मामले में अब तक 22 FIR

पिछले 4 दिनों में कई जगहों पर छात्रों ने न सिर्फ ट्रेनों को रोका, बल्कि तोड़फोड़, आगजनी भी की. सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया. सरकारी काम में बाधा तक डाला. पुलिस वालों पर पथराव किया. इन मामलों में हर जगह पर अलग-अलग FIR दर्ज हुई है.

अब तक कुल 22 FIR दर्ज हुए हैं. बिहार रेल पुलिस (GRP) ने कुल 10 FIR दर्ज की है. इनमें अकेले पटना रेल जिला में 5 FIR शामिल है. वहीं, रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (RPF) ने भी रेलवे की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के मामले में भी कुल 10 FIR किया है. जबकि, पटना पुलिस ने कुल 2 FIR दर्ज की है.

यह भी पढ़ें| बिहार विरोध प्रदर्शनों में नष्ट की गई करोड़ों की संपत्ति – सूत्र

22 में से सिर्फ 1 केस, जो पटना के पत्रकार नगर थाना में दर्ज है. इसी केस में चर्चित टीचर खान सर समेत 6 टीचरों के नाम शामिल है. रेल पुलिस और रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स ने भी अपने यहां दर्ज केसों की जांच शुरू कर दी है. जांच में छात्रों को उकसाने के पीछे खान सर या किसी भी कोचिंग संचालक का नाम सामने आते ही बिहार रेल पुलिस और रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स भी सख्ती से कानूनी कार्रवाई करेगी.

44 नामजद में 25 गिरफ्तार, 2700 अज्ञात

छात्रों के उपद्रव मामले में पटना रेल पुलिस ने राजेंद्र नगर टर्मिनल, जहानाबाद, गया, आरा और बक्सर को मिलाकर कुल 5 FIR दर्ज की. जबकि, पटना पुलिस ने 2 FIR की. रेल और जिला पुलिस के कुल 7 FIR में 44 नामजद और 2700 अज्ञात छात्र शामिल हैं. इनमें अब तक 25 छात्रों को अलग-अलग जगहों से गिरफ्तार किया गया है. 17 छात्रों को रेल पुलिस ने तो 8 छात्रों को पटना पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा है.

25 जनवरी काे छात्रों ने पटना के भीखना पहाड़ी इलाके में उपद्रव मचाया था. इस मामले में एग्जीक्यूटिव मजिस्ट्रेट के बयान पर कदमकुआं थाना में 5 नामजद व 300 अज्ञात छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. इस केस में 4 नामजदों को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है.

इससे पहले 24 जनवरी को राजेंद्र नगर मामले में पत्रकार नगर थाना की पुलिस ने भी 22 नामजद और 400 अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया. इस केस में ही खान सर समेत 6 टीचरों और 16 छात्र नामजद हैं. जबकि, 4 जेल जा चुके हैं.

रिमांड पर लेकर होगी पूछताछ, नाम आते ही होगी कार्रवाई

किशन कुमार, रोहित कुमार, राजन कुमार और बिक्रम कुमार, ये वो 4 छात्र हैं. जिन्हें पत्रकार नगर थाना की पुलिस ने 24 जनवरी को राजेंद्र नगर टर्मिनल पर हुए उपद्रव के बाद गिरफ्तार किया था. इनसे हुई पूछताछ में ही खान सर समेत 6 टीचरों का नाम सामने आया.

यह भी पढ़ें| शुक्रवार के बिहार बंद को अहिंसक समर्थन देगी महागठबंधन

उधर राजेंद्र नगर टर्मिनल पर रेल पुलिस ने जो केस दर्ज किया है, उसमें भी यही चारों छात्र नामजद हैं. रेल पुलिस पोस्ट के प्रभारी के अनुसार इस केस में पत्रकार नगर थाना से जेल भेजे गए इन छात्रों को रिमांड पर लेंगे. इसके लिए कोर्ट में जल्द ही आवेदन दिया जाएगा.

रिमांड पर लेकर इन छात्रों से रेल पुलिस पूछताछ करेगी. इनसे पूछताछ में खान सर या किसी भी टीचर का नाम सामने आएगा तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगी. जरूरत पड़ने पर उन्हें गिरफ्तार भी किया जा सकता है.

इसी तरह राजेन्द्र नगर RPF पोस्ट प्रभारी ने भी कहा कि- उनके यहां दर्ज हुए केस में भी जांच चल रही है. हंगामा करने वाले जो छात्र गिरफ्तार हुए हैं, उन्हें रिमांड पर लेकर पूछताछ करेंगे. उसमें जिनका भी नाम आएगा, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

(इनपुट-डीबी)