द्रौपदी मूर्मू की जीत पर बीजेपी ने फोड़े पटाखे, नीतीश व यशवंत सिन्हा ने दी बधाई

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू (Droupadi Murmu)  की ऐतिहासिक जीत पर भाजपा प्रदेश मुख्यालय (Bihar BJP State Headquarters) में जश्न मनाया गया. भाजपा प्रदेश मुख्यालय से आयकर गोलम्बर तक महिला मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष लाजवंती झा के नेतृत्व में जुलूस निकाला गया.

बड़ी संख्या में पार्टी के कार्यकर्ता खासकर महिला मोर्चा के कार्यकर्ता एवं आदिवासी समाज की महिला एवं पुरुषों ने अपनी पारम्परिक नृत्य के माध्यम से खुशी का इजहार किया. बिहार के उप मुख्यमंत्री द्वेय समेत पार्टी के वरिष्ठ नेतागण भी जुलूस में शामिल हुए.

इस मौके पर उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद (Deputy Chief Minister Tarkishore Prasad) ने द्रौपदी मुर्मू की ऐतिहासिक जीत पर बधाई देते हुए कहा कि द्रौपदी मुर्मू की जीत से महिलाओं एवं खासकर आदिवासी समाज के लिए गर्व की बात है. देश के इतिहास में पहली बार आदिवासी समाज से आने वाली द्रौपदी मुर्मू समाज के निचले पायदान से महामहिम की कुर्सी पर विराजमान होने जा रही हैं.

वहीं, उप मुख्यमंत्री रेणु देवी (Deputy Chief Minister Renu Devi ने कहा कि देश के इतिहास में पहली बार आदिवासी समाज की महिला राष्ट्रपति निर्वाचित हुई हैं. भाजपा ने हमेशा से महिलाओं को सम्मान देने का काम किया है. महिलाओं के लिए गर्व की बात है. केन्द्रीय नेतृत्व को बधाई.

यह भी पढ़ें| आजाद भारत में पैदा होने वाली पहली राष्ट्रपति हैं द्रौपदी मुर्मू

भाजपा के प्रदेश मुख्यालय प्रभारी सुरेश रूंगटा ने द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद पर निर्वाचित होने पर बधाई देते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने यह जता दिया कि वह अन्त्योदय के मूल मंत्र को लेकर चल रही है.

मुख्यमंत्री ने दी द्रौपदी मुर्मू को बधाई

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने भी द्रौपदी मुर्मू को भारत का राष्ट्रपति निर्वाचित होने पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनायें दी है.

यशवंत सिन्हा ने दी बधाई

वहीं विपक्ष के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने देश के राष्ट्रपति चुने जाने पर एनडीए के उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को बधाई दी. उन्होंने कहा, “… मुझे उम्मीद है कि भारत के 15 वें राष्ट्रपति के रूप में वह बिना किसी डर या पक्षपात के संविधान के संरक्षक के रूप में कार्य करेंगी …”

यशवंत सिन्हा ने कहा, ‘मैं राष्ट्रपति चुनाव 2022 में द्रौपदी मुर्मू को उनकी जीत पर दिल से बधाई देता हूं. मुझे उम्मीद है कि वास्तव में, हर भारतीय उम्मीद है कि 15 वें राष्ट्रपति के रूप में वह बिना किसी डर या पक्षपात के संविधान के संरक्षक के रूप में कार्य करें. मैं साथी देशवासियों के साथ उन्हें शुभकामनाएं देता हूं.

उन्होंने आगे कहा, ‘चुनाव के नतीजे के बावजूद, मेरा मानना ​​है कि इससे भारतीय लोकतंत्र को 2 महत्वपूर्ण तरीकों से फायदा हुआ है. सबसे पहले, इसने अधिकांश विपक्षी दलों को एक साझा मंच पर लाया. यह वास्तव में समय की मांग है और मैं उनसे राष्ट्रपति चुनाव के बाद भी विपक्षी एकता जारी रखने की अपील करता हूं.’

यशवंत सिन्हा ने कहा, ‘दूसरा, अपने चुनाव अभियान के दौरान, मैंने देश और आम लोगों के सामने प्रमुख मुद्दों पर विपक्ष के विचारों और चिंताओं को उजागर करने की कोशिश की. विशेष रूप से, मैंने ईडी, सीबीआई, आईटी और यहां तक ​​कि राज्यपाल के कार्यालय के खुलेआम और बड़े पैमाने पर हथियार बनाने पर कड़ी चिंता व्यक्त की.’