पिछले दो महीनों में दुनिया के आधे दर्जन देशों में चुनाव हुए हैं तो बिहार में क्यों नहीं : JDU

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार में कोरोना कल के बीच विधानसभा चुनाव कैसे हो इसको लेकर राजनीतिक गलियारों में हल-चल मची हुई है. पक्ष और विपक्ष लगातार चुनाव को लेकर अपनी-अपनी राय दे रहे हैं. किसी का कहना है कि चुनाव को थोड़े समय के लिए टाल देना चाहिए तो कोई कह रहा है कि चुनाव समय पर ही होना चाहिए. अब ताजा मामले में जेडीयू ने एक बार फिर विदेशों में हुए चुनाव का जिक्र कर मुद्दा उठाया है. जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने श्रीलंका में हुए चुनाव का हवाला देते हुए कहा कि जब श्रीलंका में कोरोना काल में चुनाव सम्म्पन हो गया तो फिर बिहार में इलेक्शन होने में क्या दिक्कत है. बिहार में तय सीमा पर ही चुनाव होने चाहिये.
केसी त्यागी ने इस पूरे प्रकरण को लेकर कहा है कि मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बिहार में समय पर चुनाव कराने की बात कही है. जेडीयू भी इसका समर्थन करती है.

जदयू के अनुसार इस महामारी के बीच चुनाव कराना चुनाव आयोग की जिम्मेवारी है और ये कोई राजनीतिक दल तय नहीं कर सकता है कि बिहार में बाढ़ और कोरोना कि स्थिति देख चुनाव को टाल देना चाहिए.

अन्य देश में हो रहे चुनाव

केसी त्यागी ने पिछले सप्ताह श्रीलंका में हुए चुनाव का हवाला देते हुए कहा कि वहां 70 फीसदी वोटरों ने वोट डाला. जब श्रीलंका, सिंगापुर से लेकर दक्षिण कोरिया और पिछले दो महीनों में दुनिया के आधे दर्जन देशों में चुनाव हुए हैं तो बिहार में क्यों नहीं.

त्यागी ने कहा कि अमेरिका के 6 राज्यों में चुनाव हुए हैं. अमेरिका का फ्लोरिडा प्रांत कोरोना वायरस के साथ साथ बाढ़ का भी सामना कर रहा है. फिर भी वहां चुनाव हुए हैं. जब उन देशों में चुनाव हुए हैं तो बिहार में चुनाव होने में क्या दिक्कत है. चुनाव का विरोध वही लोग कर रहे हैं जिन्हें हार का डर सता रहा है. बिहार में चुनाव होने में कोई दिक्कत नहीं है.

RJD और LJP कर रहे विरोध

हालांकि आरजेडी से लेकर एलजेपी जैसी पार्टियां ने इस बार चुनाव को लेकर विरोध जताया है और पहले ही चुनाव आयोग को अपना लिखित सुझाव दे दिया है. आरजेडी ने तो यहां तक कह डाला है कि अगर चुनाव होता है और उसे पारंपरिक तरीके से प्रचार करने का मौका नहीं दिया गया तो वह चुनाव का बहिष्कार करेगी. साथ ही कोरोना की हालत को देखते हुए चुनाव को टालने का आग्रह किया गया है.