चिराग पासवान की “बिहार फर्स्ट-बिहारी फर्स्ट” यात्रा

 

पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट)| बिहार में इन दिनों  रैली और चुनावी यात्राओं के कारण राजनीतिक माहौल गर्म बना हुआ है. एक तरफ जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और भाकपा नेता कन्हैया कुमार “नागरिकता संशोधन अधिनियम” के विरोध में बिहार में यात्रा पर हैं. कन्हैया कुमार आने वाली  27 फरवरी को पटना के गांधी मैदान में एक और रैली का आयोजन करने वाले हैं. इस रैली का नाम “संविधान बचाओ, नागरिकता बचाओ महारैली ” रखा गया है.  कन्हैया कुमार के साथ इस रैली में फिल्म जगत के कई मशहूर सितारे भी शामिल होंगे. कन्हैया कुमार की रैली से ठीक पहले राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की “बेरोजगारी हटाओ यात्रा” 24  फरवरी से शुरू होने वाली है. तेजस्वी यादव ने पूरे बिहार में “बेरोजगारी हटाओ यात्रा” करने का ऐलान किया है.

रैली और यात्राओं के इस क्रम में लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने आज ही एक यात्रा शुरू की है जिसका नाम “बिहार फर्स्ट-बिहारी फर्स्ट” रखा गया है. यह यात्रा पूरे बिहार का भ्रमण करने के बाद 14 अप्रैल को पटना के गांधी मैदान में समाप्त होगी. चिराग पासवान ने इस यात्रा को लेकर अपने विचार रखे और कहा कि “इस यात्रा का लक्ष्य बिहार को नंबर-1 बनाने का है. बिहार का गौरवशाली इतिहास रहा है. उसी स्वरूप को वापस लाना है और उस दिशा में चह्मुखी विकास की जरूरत है. चिराग पासवान ने कहा कि जब तक पलायन नहीं रुकेगा, समस्या बनी रहेंगी”.

चिराग पासवान ने आगे कहा कि “15 साल में काम हुए, 27 साल बाद मौका मिला था नीतीश कुमार को बिहार को बेहतर बनाने का. आज डबल इंजन की सरकार है और 2020 के चुनाव के बाद भी ये स्थिति बनी रहेगी.  चिराग पासवान ने अपनी यात्रा  “बिहार फर्स्ट-बिहारी फर्स्ट” के बारे में बात करते हुए बताया कि “14 अप्रैल को पटना के गांधी मैदान में हमारी रैली होगी, तब तक ये यात्रा चलेगी. उस रैली में हम लोग विजन डॉक्यूमेंट और रोड मैप लेकर आएंगे. उन्होंने कहा कि हम लोग टोल फ्री नंबर जारी कर लोगों से सुझाव लेंगे”.

लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) पार्टी का गठन 2000 में हुआ था. जब रामविलास पासवान जनता दल (यूनाइटेड) से अलग हो गये थे. बिहार में लोजपा का दलितों के बीच काफी अनुसरण है. फिलहाल लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) पार्टी का केंद्र में बीजेपी के साथ गठबंधन है और बिहार में भी चिराग पासवान की पार्टी विधानसभा चुनाव बीजेपी के साथ मिलकर लड़ने की तैयारी कर रही है.