जेपी नड्डा जुटे क्षति नियंत्रण की कोशिश में, चिराग-नीतीश को दी नसीहत

Patna (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बिहार में विधानसभा चुनाव से पहले जेडीयू और लोजपा में जारी विवाद के बीच बड़ा बयान दिया है. भारतीय जनता पार्टी के बिहार प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के दूसरे दिन नड्डा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पार्टी के नेताओं से जुड़े. इस दौरान नड्डा ने अपने नेताओं से साफ कह दिया कि आप चुनाव में सिर्फ अपने बारे में नहीं सोचे. आपको एनडीए गठबंधन के बारे में भी सोचना है.

नड्डा ने कहा कि बीजेपी, जेडीयू और लोजपा को एक साथ मिलकर चुनाव लड़ना है. ये तीनो पार्टी जब मिलती हैं तो जीत सुनिश्चित होती है. उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता सिर्फ अपनी पार्टी के लिए चुनाव ना लड़ें बल्कि हमें अपने सहयोगी दलों की भी मदद करनी है. जीत के लिए सहयोगी दल भी महत्वपूर्ण हैं और हमें गठबंधन के उम्मीदवारों को भी जिताने के बारे में सोचना है.

नड्डा ने कहा कि हमें समाज के सभी वर्ग के लोगों को टच करना है. बिहार में केंद्र सरकार ने बहुत काम किया है, मेट्रो से कर कई विभागों में काम किये गए हैं लेकिन यहां विपक्ष हल्की और ओछी राजनीति करती है. आज बिहार के लोगों को आशा है तो सिर्फ एनडीए से है. नड्डा ने कहा कि कार्यकर्ता अपने कार्यक्रम और टास्क पर लग जायें. कार्यकर्ता लोगों को बताएं कि किस तरह से कोरोना की लड़ाई लड़ी है.

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आगे कहा कि बिहार में सामाजिक और राजनैतिक चेतना को सबसे ऊपर रखा है. हमें चंपारण से लेकर जेपी मूवमेंट को याद करना चाहिए. बिहार ने इन सभी का नेतृत्व किया है. हमारे पास इस चुनाव में दो-तीन चैलेंज हैं जिनमें कोरोना और बाढ़ अहम हैं. जेपी नड्डा ने कहा कि बिहार में कोरोना का रिकवरी रेट आज 73.48 प्रतिशत है. 10 करोड़ डोर टू डोर स्क्रिनिंग बिहार में की गई है. राज्य में 35 हजार से बढ़कर आज 1 लाख टेस्ट हो रहे हैं. इसके लिए में बिहार सरकार को बधाई देता हूं. दिल्ली में मंच पर बिहार से मोदी सरकार में मंत्री गिरिराज सिंह, नित्यानन्द राय, रविशंकर प्रसाद, अश्वनी चौबे, आरके सिंह भी मौजूद थे.

Advertisements