BREAKING: आखिरकार पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने जॉइन किया जदयू

पटना (TBN -The Bihar Now डेस्क) | बड़ी खबर राजधानी पटना से आ रही है जहां बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने जदयू जॉइन कर लिया है. रविवार दोपहर करीब 1 बजे उन्होंने किया जॉइन. मुख्यमंत्री ने उन्हें सदस्यता पत्र सौंपा.

बिहार के पूर्व पुलिस महानिदेशक (DGP), जिन्होंने हाल ही में स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (VRS) ली थी, राज्य विधानसभा चुनाव से एक महीने पहले रविवार को पटना में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आवास पर जनता दल (यू) में शामिल हो गए.

वह इससे पहले शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिले थे और कहा था कि उन्होंने चुनाव लड़ने पर कोई निर्णय नहीं लिया है. उन्होंने कहा था, “मैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलने और उन्हें धन्यवाद देने आया हूं क्योंकि उन्होंने मुझे डीजीपी के रूप में अपने कर्तव्यों की सेवा करने की पूरी आजादी दी थी. मैंने अभी तक चुनाव लड़ने के बारे में कोई निर्णय नहीं लिया है”. बिहार सरकार द्वारा मंगलवार को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के अनुरोध के बाद पांडे ने डीजीपी के रूप में पद छोड़ दिया. बिहार सरकार ने तीन महीने की अनिवार्य कूलिंग-ऑफ अवधि को माफ कर दिया था.

जिस बात के कयास लगाए जा रहे थें वो आज पूरा हो गया. बीते दिनों उन्होंने अपने पद से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (वीआरएस) ले ली थी. उसके बाद से ही सियासी गलियारों में इस बात की चर्चा जोरो पर थी कि वो जल्द हीं किसी पार्टी को जॉइन कर सकते हैं. हालांकि, अब तक वो खुलकर किसी पार्टी में शामिल होने और चुनाव लड़ने का दावा नहीं कर रहे थे लेकिन अंततः उन्होंने जदयू (JDU) जॉइन कर ही लिया.

अब ये यकीनन कहा जा सकता है कि वो आगामी बिहार विधानसभा चुनावों में अपनी किस्मत आजमा सकते हैं. वैसे बिहार का ये रिकॉर्ड रहा है कि आज तक किसी भी बड़े पुलिस अधिकारी की किस्मत चुनावी मैदान में अच्छी नहीं रही है. अब ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि पांडे इस रिकॉर्ड को तोड़ पाते हैं या नहीं, यदि वो चुनाव लड़ते हैं तो.

बताते चलें कि सुशांत सिंह राजपुत मौत मामले के बाद से गुप्तेश्वर पांडे लगातार मीडिया में बने रहे हैं. इतना ही नहीं, वे सोशल मीडिया पर भी हमेशा कानून को लेकर टिप्पणी करते नजर आते हैं. देखना यह है कि वो किस सीट से चुनाव लड़ते हैं. वैसे राजनीतिकारों की मानें तो वे मुजफ्फरपुर या अपने गृह जिला बक्सर से इस बार का चुनाव लड़ सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.