सभी मुख्य पार्टियां सरकार बनाने को आशान्वित

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| शनिवार को बिहार विस चुनाव में 243 सीटों के लिए मतदान की प्रक्रिया समाप्त हो गई. अब 10 नवंबर को परिणाम के आने का इंतजार सभी राजनीतिक पार्टियां कर रही हैं. राजनीतिक दलों के नेताओं ने बिहार चुनावों में अपनी पार्टियों की जीत की संभावनाओं के बारे में आशा व्यक्त किया. कुछ लोगों ने यह भी कहा कि चुनाव परिणाम राजद नेता तेजस्वी यादव और लोजपा प्रमुख चिराग पासवान सहित राज्य के शीर्ष नेताओं के राजनीतिक भविष्य पर व्यापक प्रभाव डालेंगे.

राजद के एक वरिष्ठ नेता ने आशा व्यक्त की कि आरजेडी के नेतृत्व वाले महागठबंधन सरकार बनने जा रही है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि यदि महागठबंधन को बहुमत हासिल नहीं होता है तो फिर तेजस्वी यादव के नेतृत्व पर बड़ा सवाल खड़ा हो सकता है.

अपना नाम न छापने की शर्त पर आरजेडी नेता ने कहा, “तेजस्वी यादव के नेतृत्व में हमारी पार्टी के बिहार में सरकार बनाने की उज्ज्वल संभावनाएं हैं. 10 नवंबर हमारी पार्टी के लिए महत्वपूर्ण होगा. लेकिन अगर हम बहुमत पाने में विफल रहते हैं तो तेजस्वी यादव के नेतृत्व पर सवाल उठाए जाएंगे”.

इस बार बिहार विस चुनाव में एलजेपी नेता चिराग पासवान ने एनडीए से बाहर होकर चुनाव लड़ने का फैसला किया था. चुनाव का परिणाम बताएगा कि उनका फैसला सही था या गलत. इसकी पूरी संभावना है कि किसी भी प्रतिकूल परिणाम से एलजेपी अपनी रणनीति पर पुनर्विचार कर सकता है.

लोजपा के एक लोकसभा सांसद ने न्यूज एजेंसी को बताया कि राज्य में पार्टी के भविष्य के लिए बिहार विस चुनाव काफी महत्वपूर्ण है. उन्होंने कहा, “हमारी पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान ने विधानसभा चुनाव में अकेले जाने का साहसिक कदम उठाया है”. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार पिछले 15 वर्षों से बिहार के मुख्यमंत्री हैं और चुनाव परिणाम ही बताएंगे कि वे अपनी अपील में सफल रहे हैं.

जेडी-यू नेता अजय आलोक ने नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार में फिर से एनडीए की सरकार बनाने की आशा व्यक्त की. उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि बिहार के लोगों ने एक बार फिर नीतीश कुमार को जनादेश दिया है और वह फिर से राज्य के सबसे बड़े नेता के रूप में उभरेंगे”.

राज्य के एक वरिष्ठ भाजपा नेता ने भी राज्य में एनडीए की सरकार बनाने की आशा व्यक्त की है. बताते चलें कि बिहार विधानसभा के 243 सदस्यों के लिए अंतिम और फाइनल चरण का मतदान शनिवार को संपन्न हो गया. चुनाव परिणाम 10 नवंबर को आएंगे. इसलिए 10 तारीख को ही पता चलेगा कि इस बार किसके पाले बिहार की बागडोर जाएगी.