कोसी बराज से छोड़ा गया 2.76 लाख क्यूसेक पानी

पटना (TBN रिपोर्ट) |  नेपाल और उत्तर बिहार के कई इलाकों में लगातार होने वाली बारिश का असर अब बाढ़ के रूप में दिख रहा है. बिहार की 10 नदियां इस समय उफान पर हैं. जिनमे से कई नदियां खतरे के निशान से उपर बह रही हैं. जिसको लेकर लगातार चेतावनी जारी करते हुए अलर्ट किया जा रहा है.

लगातार होती बरसात के कारण  गंड़क, कमला बलान, भूतही, बागमती, ललबकिया, अधवारा, घाघरा, खांडो और महानंदा खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. इसके साथ ही कोसी इलाके और सीमांचल के कई इलाकों में बाढ़ का पानी भरने की खबर सामने आ रही हैं.

सुपौल में कोसी बराज से 2 लाख 76 हजार क्यूसेक पानी छोड़ने के कारण कोसी नदी उफान पर हो गई है. जिसके कारण सुपौल के छह प्रखंड क्षेत्र के कोसी तटबंध के भीतर बसे गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है. मिली जानकारी के अनुसार 100 से भी अधिक घरों में पानी घुस गया है. इसके साथ ही सीतामढ़ी जिले में कई गांवों में पानी घुस गया है. शिवहर में भी बाढ़ की वजह से पानी एसएच पर बह रहा है.

बिहार सरकार के जल संसाधन विभाग मंत्री संजय कुमार झा ने लोगों को अलर्ट करते हुए एवं जानकारी साझा करते हुए बताया है कि;