प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने जदयू नेता की अवैध संपत्ति जब्त की

भागलपुर (TBN रिपोर्टर) | अपराध जगत में दबदबा कायम कर अवैध सम्पत्ति का साम्राज्य खड़ा करने वाले जदयू नेता जयप्रकाश मंडल पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शिकंजा कसते हुए 8 करोड़ से ऊपर की अवैध सम्पत्ति जब्त कर ली है जयप्रकाश मंडल के खिलाफ डकैती, लूट, जालसाजी व जुआ माफियाओं के साथ मिलकर जुआखाने चलाने समेत बारह आपराधिक मामलों में केस दर्ज हैं।

प्रवर्तन निदेशालय के द्वारा अपने नेता पर की गयी कार्यवाही पर जदयू नेता चुप्पी साधे हुए हैं। जदयू के किसी नेता की तरफ से कोई भी बयान नहीं आया है। जदयू नेता जयप्रकाश मंडल के खिलाफ प्रिवेंशन ऑफ मनी लाउंड्रिंग पीएमएलए एक्ट-2002 के तहत 21 दिसंबर 2013 को एसएसपी ने आर्थिक अपराध ईकाई को मंडल की संपत्ति जब्त करने के लिए प्रस्ताव भेजा था। जिसके बाद जयप्रकाश मंडल पर कार्रवाई के लिए आर्थिक अपराध ईकाई ने प्रवर्तन निदेशालय के पटना सब-जोनल कार्यालय को 2 जुलाई 2014 को पत्र लिखा था। जिसके बाद प्रवर्त्तन निदेशालय ने जांच के लिए एक टीम बनाई और जांच टीम के द्वारा पता चला कि आपराधिक तरीके से जय प्रकाश मंडल ने अपनी पत्‍नी रत्‍ना देवी और बेटे प्रवीण मंडल के नाम पर करोड़ों की संपत्ति बनाई। प्रवर्तन निदेशालय ने 8 करोड़ से ऊपर की संपत्ति को जब्त कर लिया।जब्त की गयी सम्पतियों में , पेट्रोल पंप, शॉपिंग मॉल, होटल, मकान, नवनिर्मित अपार्टमेंट और बड़े भूखंड भी शामिल हैं।

प्रवर्तन निदेशालय के द्वारा जब्त की गयी सम्पतियाँ :-

श्री राम वैली के फ्लैट, कॉमर्शियल एरिया व पार्किंग एरिया,अनुमानित कीमत लगभग 4 करोड़ 7 लाख रुपये।
सबौर स्तिथ श्री शॉपी मार्ट, अनुमानित कीमत लगभग सवा 2 करोड़ रुपये।
सबौर स्तिथ जेपी रत्ना फिलिंग स्टेशन (एचपी पंट्रोल पंप), अनुमानित कीमत सात लाख रुपये।
जयप्रकाश मंडल और उसके परिजनों के बैंक एकाउंट में जमा और ट्रांजेक्शन, एक करोड़ 96 लाख रुपये।
टाटा स्पेशियो कार, ट्रैक्टर, ट्रेलर, टाटा सफारी कार, रॉयल एनफील्ड और यामाहा ग्लैडिएटर बाइक की अनुमानित कीमत 20 लाख रुपये।
कुल 37 भूखंड अनुमानित कीमत 1 करोड़ 25 लाख रुपये।
नवटोलिया में जयप्रकाश मंडल के दो आलीशान मकान है। अनुमानित कीमत सवा करोड़ रुपए।

जयप्रकाश मंडल के अनुसार उनको इस सम्बन्ध में कोई नोटिस या सूचना नहीं दी गयी. उनका कहना है कि उन्होंने ये सारी सम्पत्ति मेहनत से कमाई हैं जिनमे घर और जमीन पुश्तैनी हैं। मेरे खिलाफ जितने भी केस हुए, उसमें किसी में आरोप साबित नहीं हो सका है।