इन्होंने पाई कोविड 19 पर विजय, तालियों और फूलों के साथ हुई विदाई

बेतिया (TBN रिपोर्ट) | बिहार में एक तरफ कोरोना संक्रमित मरीजों के आंकड़ों में बढ़ोत्तरी हो रही है वहीँ कोरोना को मात देकर घर वापसी करने वालों की संख्या में भी लगातार इजाफा हो रहा है. कोरोना महामारी के बीच रहकर कोरोना को हराकर लौटे बेतिया के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 8 कोरोना मरीजों को तालियों की गड़गड़ाहट और फूलों की बारिश के बीच आज विदा किया गया.

कोरोना संक्रमण से स्वस्थ होने के पश्चात आइसोलेशन वार्ड से जाते वक़्त सभी कोरोना विजयी के चेहरे पर कोरोना से जंग जीतने की खुशी साफ झलक रही थी. कोरोना से इस लड़ाई में जीत के लिए सभी ने विजय प्रतीक दिखाते हुए सरकार, जिला प्रशासन तथा अस्पताल प्रबंधन को धन्यवाद व्यक्त किया है.

कोरोना से विजय हासिल करने वाले पांच लोगों के पिछले माह दिल्ली से इस जिले में आने के बाद कांटेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर इनके करीबी रहे लोग भी संदिग्ध पाये गये थे. संदिग्ध दिखने पर जांचोपरांत इन्हें आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया तथा गहन चिकित्सीय सुविधा प्रदान की जा रही थी.

कोरोना संदिग्धों में से चार व्यक्तियों को 29 अप्रैल, 3 व्यक्तियों को 3 मई तथा 1 व्यक्ति को 1 मई को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था. चिकित्सा के क्रम में स्वास्थ्य विभाग के प्रोटोकाॅल के अनुसार इनका सैम्पल जांच हेतु भेजा गया, जिसमें ये नेगेटिव पाये गये हैं. निगेटिव पाये जाने एवं बिल्कुल स्वस्थ होने के उपरांत स्वास्थ्य विभाग के गाइडलाइन के अनुसार इन्हें आज आइसोलेशन वार्ड से विदा किया गया.

बेतिया जिले के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 3 मरीजों जिसमें 2 बच्चे भी शामिल थे. इन सभी को बेहतर इलाज के लिए एनएमसीएच, पटना भेजा गया था. इलाज के बाद इन सभी लोगों ने भी कोरोना को मात दी और समय-समय पर जांच करने तथा बिल्कुल ठीक होने के बाद इन्हें 8 मई को एनएमसीएच, पटना से छुट्टी दे दी गयी थी इस तरह जिले के कुल-11 मरीज कोरोना पर विजय प्राप्त करने में सफलता हासिल की है.

कोरोना से जंग में विजय हासिल किये व्यक्तियों को 7 दिनों तक होम क्वारंटाइन में रहने हेतु सिविल सर्जन डाॅ0 अरूण कुमार सिन्हा द्वारा आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा गया कि आप सभी लोग होम क्वारंटाइन में रहते हुए स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिये गये निदेशों का अक्षरशः पालन करेंगे तथा हमेशा मास्क पहनकर रहेंगे. साथ ही समय-समय साबुन एवं सेनेटाइजर से अच्छे तरीके से अपने हाथों को साफ करते रहेंगे. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी करेंगे.

इस बारे में बात करते हुए जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने कहा कि पश्चिम चम्पारण जिले के लिए यह बहुत ही अच्छी खबर है. कोरोना से जंग में विजयी हुए व्यक्तियों को आज आइसोलेशन वार्ड से छुट्टी दे दी गयी है. वहीं आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीजों को बेहतर चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है ताकि वे भी शीघ्रातीशीघ्र स्वस्थ होकर अपने घरों को जा सकें.

जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा है कि वे घबराएं नहीं, जिला प्रशासन कोरोना महामारी से लड़ने के लिए पूरी तरह से मुस्तैद है. सभी लोग स्वास्थ्य विभाग, राज्य सरकार एवं केन्द्र सरकार द्वारा समय-समय पर जारी निदेशों का अनुपालन करें. अतिआवश्यक हो तभी घर से बाहर निकले. घर से बाहर निकलते समय अनिवार्य रूप से मास्क का उपयोग करें तथा सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखें. उन्होंने कहा कि हम सभी समन्वित होकर कोरोना महामारी पर विजय हासिल करेंगे.

जिलाधिकारी ने अस्पताल प्रबंधन एवं आइसोलेशन कोषांग के सभी प्रशासनिक पदाधिकारियों को धन्यवाद कहते हुए कोरोना पर विजय प्राप्त करने वाले व्यक्तियों को शुभकामनाएं दी है.

इस अवसर पर अस्पताल अधीक्षक, धीरेन्द्र कुमार सिंह, विभागाध्यक्ष, मेडिसिन, डाॅ0 पी. युगल, अस्पताल उपाधीक्षक, डाॅ0 एस. के. दूबे, एपिडेमियोलोजिस्ट, डाॅ0 आरस मुन्ना, डाॅ0 अंकुर नैयर सहित आइसोलेशन कोषांग के प्रभारी पदाधिकारी, मनीष कुमार श्रीवास्तव, मदन कुमार तथा अस्पताल के डाॅक्टर्स, पैरामेडिक स्टाॅफ आदि उपस्थित रहे.