राजधानी में मां दुर्गा की यह प्रतिमा अनोखे तरीके से है बनी, दो महीने लगे बनाने में

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| मंगलवार को शारदीय नवरात्रा की सप्तमी तिथि थी. इस दिन देश भर सहित राजधानी पटना के पूजा पंडालों में मां दुर्गा का पट खुल गया है. राजधानी में तरह-तरह के पंडाल और तैयार किए गए मूर्तियों में बुद्धा कॉलोनी के काठपुल स्थित मंदिरी के पास अनोखे तरीके से भव्य प्रतिमा बनाई गई है.

यह प्रतिमा धनिया इस्तेमाल कर बनाई गई है जो लोगों का ध्यान आकर्षित कर रही है. इसे बनाने में लगभग दो महीने लग गए. इस मूर्ति को देखने लोगों की भीड़ उमड़ रही है. लोग मूर्ति की शोभा देख कलाकारों की कलाकारी के कायल हो रहे हैं और उनकी प्रशंसा करते नहीं थक रहे हैं.

पटना आर्ट्स कॉलेज के छात्रों द्वारा किया गया तैयार

यह पंडाल दुर्गा पूजा समिति के सौजन्य से बना है. दुर्गा पूजा समिति के संस्थापक अजय कुमार ने बताया कि दुर्गा माँ की इस प्रतिमा को धनिया से बनाया गया है. इस प्रतिमा को बनाने में लगभग 2 महीना लग गया है और पटना आर्ट्स कॉलेज के छात्रों के द्वारा इस प्रतिमा को बनाया गया है.

यह भी पढ़ें| शारदीय नवरात्रा के अष्टमी पर नीतीश ने लगाई माता के दरबार में हाजिरी

हालांकि इस साल कोरोना की मार के बावजूद सरकार ने कई पाबंदियाँ हटा दी है, बावजूद इसके लोगों में इसका खौफ दिखता नजर आ रहा है. हर साल के विपरीत इस बार भीड़ कम देखी जा रही है. सरकार ने भी भीड़-भाड़ को नियंत्रित करने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की है.

बड़े पूजा पंडालों में कोरोना टेस्ट

स्वास्थ्य विभाग के द्वारा बड़े-बड़े पूजा पंडालों के बाहर कोरोना टेस्ट के साथ-साथ टीकाकरण की भी व्यवस्था की गई है. ताकि माता के दर्शन के साथ लोग बीमारी से भी सुरक्षित हो सकें.

बताते चलें, शारदीय नवरात्र के महाअष्टमी के अवसर पर बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) भी पटना में माता के दरबार में हाजिरी लगाने पहुंचे थे. उन्होंने पटनासिटी स्थित बड़ी और छोटी पटनदेवी मंदिर में मां दुर्गा की पूजा की. उन्होंने मां दुर्गा से राज्यवासियों की सुख-समृद्धि और शांति के लिए प्रार्थना की.