कोरोना मरीज के सुसाइड की तीसरी घटना

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | देर से मिल रही खबर के अनुसार, कोरोना का इलाज करा रहे सिवान जेल के कैदी वीरेंद्र साह ने पटना एम्स में खुदकुशी कर ली. मृतक 67 साल का था.

खबर के अनुसार, 25 अक्टूबर को सुबह वह बाथरूम में गया और खिड़की में लगे ग्रिल से गमछा लगा कर लटक गया. 1 घंटे तक जब बाथरूम का गेट नहीं खुला तो हॉस्पिटल स्टाफ को कुछ शक हुआ. उसने आवाज भी दी , लेकिन उसके बाद भी गेट नहीं खुला. जब किसी तरह गेट खोला गया तो पाया गया कि वीरेंद्र फंदे पर झूल रहा था और उसकी मौत हो चुकी थी.

मृतक वीरेंद्र साह सिवान जिले के ककरघाटी गांव का रहने वाला था. वीरेंद्र दहेज हत्या का आरोपी था और वह 18 सितंबर से सिवान जेल में बंद था. कोरोना से संक्रमित होने का पता चलने के बाद उसे 7 अक्टूबर को पटना एम्स में भर्ती कराया गया था. उसका इलाज पटना एम्स में बी थ्री फोर में चल रहा था. हॉस्पिटल सूत्रों के मुताबिक, वीरेंद्र की कोरोना रिपोर्ट अभी नेगेटिव नहीं आई थी.

बताते चलें कि इससे पहले भी पटना एम्स में इलाज के दौरान दो कोरोना संक्रमित मरीज सुसाइड कर चुके हैं. इनमें 22 जून को खगौल के लोको पायलट शम्स तबरेज ने और 24 जुलाई को बिहटा के मोहम्मदपुर गांव के राजेश कुमार ने आत्महत्या कर ली थी.