हड़ताली शिक्षकों के काम पर लौटने के आसार

पटना (TBN रिपोर्ट) :- बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के लगभग चार लाख नियोजित शिक्षक समान काम, समान वेतन के साथ सात सूत्री मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं. हड़ताली शिक्षक पुराने शिक्षकों की तरह वेतनमान की मांग कर रहे हैं. लेकिन अब कोरोना के चलते शिक्षक अपने दायित्वों के निर्वहन को लेकर काम पर लौट सकते हैं.

इसे लेकर शिक्षक संगठनों में मंथन शुरू हो गया है और उन्होंने सकारात्मक रुख दिखाते हुए वापस काम पर लौटने के संकेत दिए हैं. शिक्षकों के दो प्रमुख नेतृत्वकर्ता संगठनों ने इस सम्बन्ध में वार्ता के लिए शिक्षा मंत्री को पत्र भेजा है.                 

शिक्षकों की हड़ताल का नेतृत्व कर रहे दोनों संगठनों ने सरकार को वार्ता की पेशकश की है. बिहार शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के संयोजक ब्रजनंदन शर्मा और बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के महासचिव शत्रुध्न प्रसाद सिंह ने वार्ता के लिए समय निर्धारित करने के सम्बन्ध में शिक्षा मंत्री को पत्र लिखा है.

इसके साथ ही हड़ताल टूटने पर शिक्षकों पर हुई कार्रवाई वापस लेने के भी संकेत शिक्षा विभाग की तरफ से दिए गए हैं. हड़ताल को लेकर दोनों के बीच संवाद शुरू हो गया है. वहीं शिक्षा विभाग भी हड़ताली शिक्षकों के इस निर्णय को लेकर स्वागत को तैयार है.