लॉकडाउन में छूट का किया गलत इस्तेमाल तो होगी कड़ी कार्रवाई

पटना (TBN रिपोर्ट) :- बिहार में लॉकडाउन में मिली सशर्त छूट को लेकर डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने लोगों को चेतावनी देते हुए कहा है कि, ” लॉकडाउन के दौरान छूट सिर्फ जरूरी सेवाओं को लेकर दी गई है अगर इसका गलत इस्तेमाल किया गया तो ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी”.

लॉकडाउन में मिली छूट को लेकर डीजीपी ने कहा कि, “आज से जो कुछ जरूरी और सरकारी कार्यालय खुले हैं तो यह न समझे कि लॉकडाउन खत्म हो गया है. लॉकडाउन पूर्ण रूप से 3 मई तक हैं और लॉकडाउन रहेगा. बेजवह घूमने वाले पकड़े जाएंगे तो केस दर्ज होगा और वो जेल भी जाएंगे”.

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने कहा कि, “बिहार पुलिस मुश्किल घड़ी में लोगों पर सिर्फ डंडे नहीं चलाती है. संकट के समय में उनकी सेवा कर दिल जीतने का काम भी कर रहे हैं. बच्चों के जन्मदिन पर केक दे रहे हैं  लोगों को खून दान भी कर रहे हैं. लेकिन लॉकडाउन तोड़ने वाले मनचलों और लफंगों  पर सख्ती जरूरी है.

डीजीपी ने बिहार प्रशासनिक अधिकारियों पर कार्रवाई को लेकर कहा कि, “जो गलती करेंगे उन्हें बख्शा नहीं जाएगा. बिहार के मुख्यमंत्री सुशासन को जानते हैं. यहां पर पद को नहीं सिर्फ दोषी को पहचाना जाता है. लॉकडाउन है तो सबके लिए हैं चाहे वह कोई भी पदाधिकारी कितने बड़े पद पर क्यों ना हो गैर जिम्मेदाराना हरकत करेगा तो यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. डीएसपी , एसडीपीओ और सीओ सभी पर केस दर्ज हुआ है और जांच हो रही है.  वहीँ बीजेपी के हिसुआ विधायक अनिल सिंह की बेटी को कोटा से लाने के मामले पर बात करते हुए डीजीपी ने कहा कि, जांच चल रही हैं कि पास किस परिस्थिति में जारी किया गया था और किसने पास जारी किया था .