अब फिर से सजीव होंगे महाराजा: शरद यादव

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में पूर्व नागरिक उड्डयन मंत्री, शरद यादव (Sharad Yadav) ने शनिवार को कहा कि उन्हें उम्मीद है कि टाटा समूह द्वारा एयर इंडिया (Air India) का अधिग्रहण एयरलाइन की किस्मत को पुनर्जीवित करने में मदद करेगा.

मीडिया से बात करते हुए यादव ने कहा कि सरकार के सभी प्रयासों के बावजूद एयर इंडिया को पुनर्जीवित नहीं किया जा सका था, हालांकि, टाटा कंपनी सब कुछ चलाने में सक्षम है और उम्मीद है कि एयर इंडिया की स्थिति में सुधार होगा.

अपने कार्यकाल के दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री ने रतन टाटा के साथ अपनी बातचीत के बारे में बात करते हुए कहा कि उन्होंने जोर देकर कहा था कि टाटा एयरलाइन खरीदें, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. “वह मुझसे मिले थे और मैंने उनसे एयरलाइन खरीदने के लिए कहा था लेकिन ऐसा नहीं हुआ. लेकिन मुझे खुशी है कि यह अब हो गया है. मैं इस कदम का स्वागत करता हूं, अब महाराजा को पुनर्जीवित किया जाएगा.

उन्होंने आगे कहा कि उन्हें खुशी है कि एयर इंडिया टाटा समूह की थी और अब फिर से उनकी हो गई है. बता दें, शुक्रवार को सरकार ने टाटा संस द्वारा 18,000 करोड़ रुपये में राष्ट्रीय वाहक एयर इंडिया के अधिग्रहण की बोली जीतने की खबर दी थी.

यह भी पढे| पूजा के दौरान यात्रियों की सुविधा के लिए फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों का परिचालन

इधर, निवेश और लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (Department of Investment and Public Asset Management) के सचिव तुहिन कांता पांडे ने सूचित किया है कि लेनदेन दिसंबर 2021 तक पूरा हो जाएगा. टाटा संस की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी टैलेस प्राइवेट लिमिटेड द्वारा बोली दायर की गई थी. इस बोली में टाटा संस स्पाइसजेट के प्रमोटर अजय सिंह के नेतृत्व वाले कंसोर्टियम के खिलाफ थे, जिन्होंने 15,100 करोड़ रुपये की बोली लगाई थी. 31 अगस्त तक एयर इंडिया का कुल कर्ज 61,562 करोड़ रुपये है.