IPS ऑफ़िसर के बाद सुशांत केस में जांच कर रहे 4 अधिकारियों को भी क्वॉरेंटाइन करने की कोशिश

Patna (TBN – The Bihar Now डेस्क) | सुशांत सिंह राजपूत मामले में मुंबई जांच करने पहुंचे बिहार के आईपीएस अधिकारी को इन्वेस्टीगेशन के दरमियान क्वॉरेंटाइन कर दिया गया. वही अब खबर यह है की जांच कर रहे बिहार पुलिस के चार अधिकारियों को अब जबरन होम क्वॉरेंटाइन करने की कोशिश की जा रही है. लेकिन राहत की बात है कि उनका लोकेशन अबतक नहीं मिल पा रहा है.

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय खुलासा

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि एसपी विनय तिवारी के बाद पहले से केस ही केस की जांच कर रहे 4 अधिकारियों को अब क्वॉरेंटाइन करने की कोशिश की जा रही थी. बता दें की मुंबई से एक अधिकारी ने पटना के एसएसपी को कॉल कर 4 अधिकारियों का लोकेशन मांगा. लेकिन एसएसपी ने लोकेशन नहीं दिया.

हफ़्तों के बाद क्यों करना चाहते हैं क्वॉरेंटाइन

गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि अगर BMC या मुंबई पुलिस को पहले से जांच कर रहे अधिकारियों को क्वॉरेंटाइन करना था तो वह तो पहले से ही मुंबई पुलिस के अधिकारियों के संपर्क में हैं. उनके ऑफिस जा रहे हैं. लेकिन अब ऐसी कौन सी नौबत आ गई है कि एक सप्ताह के बाद उनको क्वॉरेंटाइन करना चाहते है और उनकी खोज कर रहे है.

केस की जांच करने के लिए पहुंचे एसपी विनय तिवारी को जबरन होम क्वॉरेंटाइन करने पर आईजी पटना ने विरोध में मुंबई पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखा है. इस तरीके गलत बताया गया है.