लॉकडाउन का उल्लंघन; शब-ए-बारात में बवाल

भागलपुर (TBN रिपोर्ट) | बिहार में लॉकडाउन लागू होने के बाद भी लोग लॉकडाउन कानून का उल्लंघन करने से बाज नहीं आते हैं. इसका जीता जागता उदाहरण भागलपुर के हबीबपुर में विशेष समुदाय के द्वारा मनाये जाने वाले शब-ए-बारात के दौरान देखने को मिला. राज्य में लॉकडाउन को देखते हुए लोगों से घर में रहने की अपील की गयी है इसके साथ ही लोगों की सुरक्षा के पुख्ता इंतेज़ाम होने के बाद भी शब-ए-बारात को लेकर सैकडों की संख्या में लोग इकठ्ठा होने के बाद हबीबपुर स्थित कब्रिस्तान में पहुंच गए थे. पुलिस प्रशासन के लाख मना करने के बावजूद लोग पुलिस की बात नहीं मान रहे थे. बल्कि पुलिस के मना करने पर पुलिस को ही निशाना बनाते हुए  भीड़ ने रोड़ेबाजी की और गोली चलाना शुरू कर दिया. हालांकि इस घटना में किसी पुलिसकर्मी को गोली नहीं लगी. जबकि भीड़ द्वारा  पथराव करने से होमगार्ड जवान घायल हो गया है.

हालात को काबू करने के लिए और पुलिस प्रशासन को मामले की सूचना दी गयी जिसके बाद सूचना मिलने पर दल बल के साथ पहुंची कई थानों की टीम के साथ एसपी ने हालात पर काबू पा लिया और भीड़ को सँभालने के लिए मस्जिदों से एलान किया गया कि, “ल़ॉकडाउन का पालन करते हुए सभी लोग अपने अपने घरों में रहे”. पुलिस प्रशासन के समझाने के बाद सभी लोग अंदर चले गए.  इस दौरान जवानों ने पूरे इलाके में फ्लैग मार्च किया.

इस मामले को लेकर इमारत-ए- शरिया के अमीर-ए- शरीयत हजरत मौलाना वली रहमानी ने पुलिस पर पथराव और फायरिंग को गलत ठहराते हुए  कहा कि, “अगर मुसलमानों ने पुलिस पर पथराव और फायरिंग की है तो यह गलत बात है. सभी को अपने दायरे में रहने की जरूरत है. इस तरह की घटना नहीं होनी चाहिए. जो लॉकडाउन को लेकर सरकार का आदेश है वह सभी को पालन करना चाहिए. इसी में ही सबकी भलाई है”.