IGIMS में नर्सिंग स्टाफ के साथ मारपीट

पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) :- बिहार में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेज़ी से बढ़ोत्तरी हो रही है. हालांकि राज्य में स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से सक्रीय है और स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर्स, नर्सिंग स्टाफ और कर्मचारी कोरोना से निपटने के लिए दिन रात एक करके जुटे हुए हैं.

ऐसे में स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों का हौसला बढ़ाने की जगह समाज के कुछ असभ्य लोग स्वास्थ्य कर्मियों के साथ मारपीट की घटना को अंजाम दे रहे हैं. बिहार में कोरोना मरीजों की देखभाल में लगे हुए डॉक्टर्स और नर्सिंग स्टाफ पर हमले की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. लेकिन इस बार मामला मेडिकल स्टूडेंट्स के द्वारा नर्सिंग स्टाफ की पिटाई को लेकर है.

मिली जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य कर्मियों के साथ मारपीट का ताज़ा मामला पटना के इंदिरा गांधी इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस (IGIMS) से सामने आया है. जिसमे कोरोना वॉरियर्स के साथ बदसलूकी करते हुए मारपीट की गयी है. IGIMS के नर्सिंग स्टाफ इस घटना के विरोध में अस्पताल परिसर में हंगामा कर रहे हैं.

नर्सिंग स्टाफ का आरोप है कि मेडिकल स्टूडेंट्स ने उनकी पिटाई की है. नर्सिंग स्टाफ के हंगामे के बाद कई सवाल खड़ा हो रहे हैं. आईजीआईएमएस प्रबंधन आक्रोशित नर्सिंग स्टाफ को समझाने की कोशिश कर रहा है. जबकि इस मामले में मेडिकल स्टूडेंट्स का कोई पक्ष सामने नहीं आया है.

कोरोना महामारी से हो रही इस जंग में लगे हुए डॉक्टर्स और नर्सिंग स्टाफ पर हमले और बदसलूकी की घटनाओं को रोकने के लिए सरकार को कोई ठोस कदम उठाना पड़ेगा.