फिर लटका मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट

पटना (TBN रिपोर्ट) :- भारत में कोरोना के प्रभाव के चलते लागू किये गए लॉकडाउन के बाद विभिन्न क्षेत्रों में इसका असर देखने को मिल रहा है. कोरोना के कारण बिहार बोर्ड ने इस बार मैट्रिक का रिजल्ट तय समय पर देने में असमर्थता जताई है.

कुछ दिनों पहले बिहार बोर्ड ने ऐसी आशंका जताई थी कि अगर लॉकडाउन की अवधि 3 मई से आगे नहीं बढाई गयी तो मैट्रिक का रिजल्ट 10 मई तक आने की पूरी उम्मीद है. लेकिन अब एक बार फिर से मैट्रिक का रिजल्ट लटक गया है.

लॉकडाउन के तीसरे चरण के बीच कॉपियों की जांच का काम 17 मई तक स्थगित कर दिया है. अब लॉकडाउन खत्म होने के बाद ही कॉपियों का जांच का काम हो सकेगा. जिसके बाद ही मैट्रिक का रिजल्ट आने की सम्भावना है.

इस बारे में जानकारी देते हुए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि, “कोरोना महामारी से बचाव हेतु सरकार द्वारा लागू लॉकडाउन की स्थिति में समिति द्वारा वार्षिक माध्यमिक परीक्षा, 2020 की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य 17 मई तक स्थगित रखने का निर्णय लिया गया है.

इस प्रकार अब स्थिति स्पष्ट हो चुकी है कि लॉकडाउन पीरियड तक कॉपियों की जांच नहीं होगी. इससे पहले भी लॉकडाउन के दूसरे चरण के पहले बोर्ड ने कॉपियों के मूल्यांकन कार्य को 3 मई तक स्थगित कर दिया था. बिहार बोर्ड के द्वारा सभी डीईओ और मूल्यांकन केन्द्रों के केन्द्र निदेशक को इस सम्बन्ध में सूचना दे दी गयी है.

error: Content is protected !!