Big NewsEducationPatnaफीचर

सीबीएसई ने बिहार के 26 स्कूलों का पंजीकरण किया रद्द

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Central Board of Secondary Education) ने अपने मापदंडों का पालन नहीं करने पर बिहार के 26 स्कूलों का पंजीकरण रद्द कर दिया है. CBSE ने इन स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया है. 

इसको लेकर जानकारी देते हुए रिजनल हेड अरविंद कुमार मिश्रा ने कहा कि ये स्कूल सीबीएसई के मानकों को पूरा नहीं कर रहे थे, इसी वजह से इन  स्कूलों की मान्यता रद्द कर दी गई है. उन्होंने आगे बताया कि सीबीएसई (CBSE) की निगरानी संस्था पिछले कुछ वर्षों से इन स्कूलों पर नज़र रख रही थी और समय-समय पर उनसे अपनी सुविधाओं में सुधार करने का आग्रह किया था, लेकिन उन्होंने इस पर ध्यान नहीं दिया.

सूत्रों ने कहा है कि स्कूल वार्षिक शुल्क, मासिक शुल्क और प्रवेश शुल्क के मामले में अधिक शुल्क ले रहे हैं लेकिन स्कूलों में पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध नहीं करा रहे हैं. आखिरकार बोर्ड ने इनके रजिस्ट्रेशन को रद्द करने का फैसला ले लिया है.

पंजीकरण रद्द किए जाने वाले स्कूल

जिन स्कूलों के पंजीकरण रद्द किए गए हैं, वे हैं:

पटना मुस्लिम हाई स्कूल,
एवीएन इंग्लिश स्कूल,
किडी कॉन्वेंट हाई स्कूल,
नई दिल्ली पब्लिक स्कूल,
शेरवुड स्कूल,
दून पब्लिक स्कूल,
दिग्दर्शन सेकेंडरी स्कूल,
निज़ामिया पब्लिक स्कूल,
एवीएन स्कूल,
सिंधु पब्लिक स्कूल,
नेशनल कॉन्वेंट हाई स्कूल,
डेनोबिली मिशन स्कूल,
शेरॉन पब्लिक स्कूल,
टी. रज़ा हाई स्कूल,
एसडीवी पब्लिक स्कूल,
अश्विनी पब्लिक स्कूल,
मॉडल सेंट माइकल हाई स्कूल,
प्लाज़्मा पाथवेज स्कूल, और
होली फेथ इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल.

उपरोक्त सभी स्कूल पटना जिले के हैं.

इसके अलावा, IQRA अकादमी, दरभंगा, आरडी पब्लिक स्कूल, हाजीपुर, तक्षशिला स्कूल, मुजफ्फरपुर, राइज हाई पब्लिक स्कूल, औरंगाबाद, तक्षशिला स्कूल, गया, आर्य बाल शांति निकेतन, मुंगेर और रामाश्रय रॉय पब्लिक स्कूल, दरभंगा का भी पंजीकरण रद्द कर दिया गया है.

सीबीएसई ने वेबसाइट पर स्कूलों के नाम अपलोड किए और अभिभावकों से कहा कि वे अपने बच्चों को इन स्कूलों में दाखिला न दें.

फैसले के बाद, बोर्ड परीक्षाओं में शामिल होने वाले लगभग 7,000 छात्रों को परीक्षा में शामिल होने की छूट दी गई है. इन स्कूलों से संबंधित छात्रों का नया पंजीकरण वर्तमान सत्र के बाद मान्य नहीं होगा.