रविवार 2 अक्टूबर को बीजेपी का मौन विरोध: सुशील मोदी

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था के विरोध में भारतीय जनता पार्टी रविवार को पटना में महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास 15 मिनट का मौन धरना प्रदर्शन (BJP to hold silent protest against deteriorating law and order situation in Bihar) करेगी.

सुशील मोदी ने एजेंसी को बताया, “भाजपा राज्य में बढ़ते अपराध और बिगड़ती कानून व्यवस्था के खिलाफ 15 मिनट का मौन रखकर एक तरह का प्रतीकात्मक विरोध प्रदर्शन करेगी.”

यह फैसला भाजपा नेता और ठेकेदार बबलू सिंह (BJP leader Bablu Singh) पर हमले के बाद आया है, जिन्हें शुक्रवार को आरा शहर के फ्रेंड्स कॉलोनी में हमलावरों ने गोली मार दी गई जब वे मॉर्निंग वाक पर थे. सुशील मोदी (former deputy chief minister Sushil Kumar Modi) ने दावा किया कि गोलीबारी की ऐसी घटनाएं नियमित रूप से सामने आती रहती हैं. “बिहार में कानून-व्यवस्था की स्थिति लगातार बिगड़ रही है.

मोदी ने कहा कि राजधानी में आयोजित इन्वेस्टर्स मीट (Investor’s Meet) के आयोजन स्थल से मात्र 30 किमी की दूरी पर रेत माफियाओं के बीच हिंसक झड़प हुई जिसमें पांच लोगों की जान चली गई. अपराधी अपने आप में इतने मजबूत थे कि वे शव भी ले गए और पुलिस उन्हें आज तक नहीं खोज पाई. उन्होंने कहा कि पुलिस जब उस इलाके में छापेमारी करने गई तो माफियाओं ने पुलिस पर ही हमला कर दिया.

यह भी पढ़ें| कल 2 अक्तूबर से शुरू हो रही पीके की पदयात्रा, पूरे बिहार का करेंगे सफर

राज्य में अपराध दर की तुलना करते हुए पूर्व डिप्टी सीएम ने कहा कि बीजेपी के शासन में पुलिस पर इस तरह के हमले कभी नहीं हुए. उन्होंने कहा कि जब भाजपा राज्य में सत्ता में थी तो ऐसी घटनाएं नहीं हुई जहां अपराधी पुलिसकर्मियों पर हमला करते हैं और अवैध रेत खदान में पांच लोग मारे जाते हैं. उन्होंने कहा कि उनके सत्ताकाल में ऐसा कभी नहीं हुआ कि अपराधी खुलेआम घूमते थे.

उन्होंने आरोप लगाया कि बिहार में लोगों को डर लगने लगा है कि राज्य में “लालू राज” वापस आ गया है. उन्होंने कहा कि जहां भी इस तरह के आपराधिक घटनाएं होती हैं, पार्टी के सदस्य पीड़ितों से मिलने जाते हैं.

सुशील मोदी ने आगे कहा कि उन्होंने बबलू सिंह पर हमले की पूरी जानकारी ली है और सरकार पर दबाव बनाने के लिए रविवार को सांकेतिक विरोध प्रदर्शन किया जाएगा.