कोरोना टेस्ट : बिहार का नंबर 7वां

पटना (TBN रिपोर्ट) :- देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते हुए आंकड़ों के बीच बिहार में कोरोना वायरस के जांच की धीमी रफ्तार को लेकर लगे आरोपों को नीतीश सरकार के द्वारा खारिज करते हुए बिहार के स्वास्थ्य विभाग ने एक आंकड़ा जारी किया है. जिसके अनुसार बिहार कोरोना टेस्ट कराने के मामले में देश में सातवें पायदान पर है.

कोरोना वायरस की जांच के आंकड़ों के अनुसार राज्यों को निम्नलिखित पायदान पर रखा गया है.

1. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का पहला मामला 9 मार्च को सामने आया था और वहां 8 अप्रैल तक 26,888 सैंपल टेस्ट कराए जा चुके हैं.

2. राजस्थान में 3 मार्च को कोरोना का पहला मामला सामने आया था और वहां 8 अप्रैल तक 16764 सैंपल टेस्ट कराए गए.

3. केरल में 11986 टेस्ट कराए गए हैं.

4. दिल्ली में 7 अप्रैल तक 7884 सैंपल टेस्ट कराए जा चुके हैं.

5. तमिलनाडु में 6095 टेस्ट कराए गए हैं.

6. कर्नाटक में 6654 टेस्ट कराए गए हैं.

7. बिहार में 8 अप्रैल तक 4991 टेस्ट कराए जा चुके हैं.

आकड़ों के हिसाब से गुजरात में बिहार से भी कम सैंपल टेस्ट कराए गए हैं. गुजरात में 4224 टेस्ट कराए गए हैं जबकि आंध्र प्रदेश में 4504 टेस्ट हुए हैं. छत्तीसगढ़ में 8 अप्रैल तक 2805, पंजाब में 2720 सैंपल टेस्ट, झारखंड में एक 1103 सैंपल टेस्ट और हिमाचल प्रदेश में 662 सैंपल टेस्ट कराए गए हैं.

इस मामले के बारे में जानकारी देते हुए स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि “कई लोगों के परीक्षण के बारे में प्रश्न खड़ा किया है”. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि, “विभिन्न स्रोतों का उपयोग करके प्रमुख राज्यों का परीक्षण डेटा संकलित किया है. जहां राज्यों ने अधिक परीक्षण किए हैं. जहां सकारात्मक मामलों की रिपोर्ट पहले की गई थी”.