बिहार में कोरोना का 7 वां मरीज मिलने से हड़कंप

पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) :- बिहार सरकार के द्वारा कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए किये जा रहे हर तरह के प्रयासों के बावजूद भी कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या कम होती नज़र नहीं आ रही है. हाल की ही एक ताज़ा खबर के अनुसार राजधानी पटना में कोरोना से संक्रमित एक और मरीज मिला है. अस्पताल प्रबंधन के द्वारा कोरोना वायरस से आशंकित मरीज की जांच के आधार पर कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद मरीज की कोरोना की पुष्टि की गयी है. इसके साथ ही बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 7 हो गई है.

कोरोना का मरीज मिलने के बाद स्‍वास्‍थ्‍य विभाग अलर्ट हो गया है. आंकड़ों के अनुसार बिहार में बुधवार तक संदिग्‍ध मरीजों की संख्‍या 1228 थी. लेकिन  कोरोना वायरस के आशंकित मरीजों का ये आंकड़ा गुरुवार तक बढ़कर 1456 हो गया है.

मिली जानकारी के अनुसार पटना के खेमनीचक इलाके के रहने वाले 20 वर्षीय एक मरीज को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. RMRI से जांच रिपोर्ट आने के बाद अस्पताल प्रबंधन की ओर से मरीज के कोरोना वायरस संक्रमित होने की पुष्टि की गई है. अस्पताल में कुल 40 लोगों के सैंपल की जांच हुई थी, जिसमें एक मरीज पॉजिटिव पाया गया है. इसके बाद पीडि़त युवक को एनएमसीएच के आइसाेलेशन वार्ड में एडमिट किया गया है. डॉक्‍टरों ने उसके ऊपर निगरानी बढ़ा दी है. स्वास्थ्य विभाग ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. विभाग के अधिकारियों ने बताया कि एक निजी अस्पताल का 20 वर्षीय वार्ड ब्वॉय अस्पताल में कोरोना वायरस संक्रमित मरीज के संपर्क में आया था. अस्पताल में भर्ती उस मरीज की बाद में पटना एम्स में मौत हो गई थी. पटना के सिविल सर्जन डॉ. राजेश कुमार चौधरी ने बताया कि शहर के खेमनीचक इलाके में स्थित इस निजी अस्पताल को सील करने की प्रक्रिया जारी है. गौरतलब है कि कतर से लौटे मुंगेर निवासी एक मरीज का पहले पटना के इसी निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था. बाद में उसे पटना एम्स में भर्ती कराया गया जहां पिछले हफ्ते उसकी मौत हो गयी थी. कोरोना वायरस का नया पॉजिटिव मामला उक्त निजी अस्पताल में वार्ड ब्वॉय के पद पर कार्यरत युवक में सामने आया है.