आंगनबाड़ी सेविकाओं का भी हो 50 लाख का बीमा- समाज कल्याण विभाग

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार में कोरोना वायरस को हराने के लिए स्वास्थ्य कर्मियों के साथ कदम से कदम मिलाकर चल रहीं आंगनबाड़ी सेविका सहायिका को भी सिक्योरिटी कवर देने की मांग करते हुए समाज कल्याण विभाग के निदेशक ने स्वास्थ विभाग के प्रधान सचिव को पत्र लिखकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 50,00,000 का जीवन बीमा कवर देने की मांग की है.

समाज कल्याण विभाग के निदेशक ने स्वास्थ विभाग के प्रधान सचिव को पत्र लिखकर कहा है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत कोविड-19 के कारण होने वाली मृत्यु पर 50 लाख की बीमा योजना में आंगनबाड़ी सेविका सहायिका को भी शामिल किया जाए .

पत्र में कहा है कि बिहार में आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका को भी आशा कार्यकर्ताओं के साथ घर-घर जाकर कोविड-19 के संदेहास्पद रोगियों के सर्वे करने आइसोलेशन करने जागरूकता के कार्य में लगाया गया है.

इस कारण आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी कोविड-19 रोगी के सीधे संपर्क में आने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता. ऐसी परिस्थिति में आशा कार्यकर्ताओं की भांति आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका, महिला पर्यवेक्षिका, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी तथा जिला प्रोग्राम पदाधिकारी को भी कोविड-19 के अंतर्गत बीमा योजना में शामिल किया जाए .

इस बारे में आईसीडीएस निदेशक ने पत्र में लिखा है कि जिला प्रशासन द्वारा आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका एवं आईसीडीएस के अन्य कर्मियों को घर-घर जाकर सर्वे करने अथवा कोविड-19 से जुड़े अन्य कार्य में लगाया गया है .उनकी इस बीमारी में मृत्यु होने पर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत 50लाख के बीमा योजना में शामिल किया जाए ताकि उनका मनोबल ऊंचा रहे.