आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 5 लोगों की मौत

पटना (TBN रिपोर्ट) – बिहार में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 5 लोगों की मौत हो गई. एक तरफ कोरोना महामारी की वजह से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, वही राजधानी पटना सहित बिहार के कई जिलों में अकस्मात आये तेज आंधी-तूफान और बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया.

आज आकाशीय बिजली गिरने से पांच लोगों की मौत हो गयी है. वज्रपात की घटनाएं पूर्वी चंपारण, बांका, जमुई और नालंदा जिले में घटित हुई जिनमे पांच लोगों की मौत हो गई है.

जानकारी के अनुसार जमुई जिले के लक्ष्मीपुर थाना क्षेत्र में खिलार पंचायत के सिंधुमडहर गांव में शुक्रवार दोपहर आकाशीय बिजली से दो युवकों की मौत हो गई. वे चारों किशोर बहियार में अपनी मविशियों को चरा रहे थे तभी वे सब आकाशीय बिजली की चपेट में आ गए.

एक मृतक संदीप टुडू के रूप में पहचान हुई जो विनोद टुडू का 14 वर्षीय पुत्र था. जबकि दूसरे किशोर की पहचान उमेश सोरेन के पुत्र परशुराम कुमार के रूप में हुई है. दो बच्चे झुलस कर घायल हो गए जिनमें बासुदेव बेसरा का पुत्र सुजीत बेसरा तथा जगलाल मुर्मू का पुत्र कारू मुर्मू शामिल है. दोनों घायल किशोरों को लक्ष्मीपुर रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया है.

वहीं इस घटना की सूचना पाकर घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए जमुई भेज दिया.

आज फिर आकाशीय बिजली बिहार मे लोगों पर कहर बनकर टूटा है. मोतिहारी जिले में बारिश के दौरान बिजली गिरने से एक जगह पर एक युवक की मौत हो गई जबकि दो लोग घायल हो गए जिन्हे इलाज के लिए स्थानीय सदर अस्पताल मे भर्ती कराया गया है.

खबरों के अनुसार परवेज नामक युवक कुंडवाचैनपुर थाना क्षेत्र के चांदमोहन गांव में अपने घर के दरवाजे पर खड़ा था. इसी दौरान वह आकाशीय बिजली का शिकार हो गया. वहीं तुरकौलिया प्रखंड क्षेत्र के हरदिया गांव में आकाशीय बिजली गिरने से सकल पासवान व हरेंद्र प्रसाद नाम के डॉ व्यक्ति गंभीर रूप से जख्मी हो गये.