मानसून हुआ सक्रिय, बिहार के कई हिस्सों में 16 अगस्त तक होगी भारी बारिश

Patna (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार में कई नदियों में पहले ही उफान है ओर वहीं आसमानी आफत अभी भी कम होने का नाम नहीं ले रही है. आलम यह है कि राज्य के 14 जिले बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हो चुके हैं. इस बीच प्रदेश के लोगों के लिए एक और बुरी खबर ये है कि लगभग एक हफ्ते बाद बिहार में मानसून फिर सक्रिय हो गया है. मौसम विभाग के अनुसार, बंगाल की खाड़ी से बिहार की तरफ आयी नमी युक्त हवाओं के कारण बिहार में अभी और बारिश के आसार हैं.

बता दें कि गुरुवार को बिहार के अधिकतर जिलों में झमाझम बारिश हुई. कई जगहों पर तो 100 मिलीमीटर से भी अधिक बारिश दर्ज की गयी. पटना के मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, दोबारा शुरू हुई मानसून की सक्रियता का दौर 16 अगस्त तक जारी रह सकता है. खासतौर पर दक्षिण-पूर्व बिहार के इलाके में अधिक बारिश के आसार हैं. हालांकि, उत्तरी बिहार में बरसात की रफ्तार अभी थमने वाली नहीं दिख रही है. मध्य बिहार में मध्य बारिश की संभावना बनी हुई है.

मौसम विभाग से मिली सूचना के आधार पर आपदा प्रबंधन विभाग ने प्रदेश में कई स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरने की आशंका का अलर्ट भी जारी किया है. बताया जा रहा है कि बंगाल की खाड़ी में बना कम दाब का केंद्र और झारखंड से गुजर रही ट्रफ लाइन मिलकर एक हो गये हैं. साथ में उत्तर बिहार में बनी ट्रफ लाइन ने उसे और ताकत दी है. इससे प्रदेश भर में कई स्थानों पर 16 अगस्त तक भारी बारिश होती रहेगी.

मौसम विभाग का अनुमान है कि मानसून इसी तरह सक्रिय रहा तो अगस्त के अंतिम हफ्ते से पहले बारिश का आंकड़ा एक हजार मिलीमीटर तक पहुंच जायेगा. यह अपने आप में नया रिकार्ड होगा. बता दें कि नेपाल में हो रहे भारी वर्षा के कारण बिहार की अधिकतर नदियों में उफान है. खास तौर पर मिथिलांचल, सीमांचल और चंपारण के क्षेत्र में बाढ़ का कहर जारी है.