उड़ी गाइडलाइन की धज्जियां, मंत्री भूले कोरोना गाइडलाइन

औरंगाबाद (TBN – The Bihar Now डेस्क)| एक तरफ सरकार कोरोना से बचने के लिए गाइडलाइंस जारी किया हुआ है एवं लोगों से अपील की जा रही है कि वे दो गज दूरी के साथ मास्क पहने. वहीं दूसरी ओर बिहार सरकार (Government of Bihar) के एक मंत्री के एक कार्यक्रम में कोरोना गाइडलाइन (Corona Guidelines) की जमकर धज्जियां उड़ाई गई.

बात औरंगाबाद के बारुण की है जहां गुरु पूर्णिमा के अवसर पर शनिवार को महर्षि वेदव्यास जी की पूजन सह जयंती एवं मूर्ति के अनावरण समारोह में बतौर मुख्य अतिथि बिहार सरकार के मंत्री मुकेश सहनी (Mukesh Sahni) पहुंचे थे. इस समारोह में मंत्री के साथ लगभग सभी लोगों ने कोरोना गाइडलाइन को दरकिनार कर दिया.

मूर्ति के अनावरण कर समारोह में उपस्थित जनसभा को संबोधित करते समय मंत्री ने मास्क नहीं लगाया था. मंच पर मंत्री के साथ-साथ सभी लोग बिना मास्क के नजर आए. सोशिल डिस्टेंसिंग का तो आभास तक नहीं हो रहा था. इतना ही नहीं, मंच के सामने सभा में बैठी जनता ने भी कोरोना गाइडलाइन को ताक पर रख दिया.

दरअसल में, राज्य के पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री (Animal and Fisheries Minister) मुकेश सहनी औरंगाबाद जिले के बारुण (Barun, Aurangabad) पहुंचे थे. यहां वह सर्वेश्वरी समूह आश्रम के मैदान में महर्षि वेदव्यास (Maharshi Vedvyas) के मूर्ति अनावरण में भाग लेने पहुंचे था. उनके इस पूरे कार्यक्रम के दौरान कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ती दिखी. लोगों की क्या कहें, मंत्री मुकेश सहनी तक पर कोई फर्क नहीं पड़ा. वे खुद ही मंच पर बिना मास्क के नजर आए.

इस कार्यक्रम के दौरान हजारों की संख्या में पहुंचे समर्थकों को सहनी ने संबोधित किया. उन्होंने राज्य सरकार की ओर से चलाए जा रहे विभिन्न योजनाओं के बारे में लोगों को जानकारीदी. मंच पर पूर्व विधायक वीरेंद्र कुमार सिंह, भाजपा नेता त्रिविक्रम नारायण सिंह और औरंगाबाद नगर परिषद के मुख्य पार्षद उदय गुप्ता मौजूद थे.

मंत्री ने औरंगाबाद के इस समारोह में पूर्व सांसद फूलन देवी का जिक्र किया. बता दें कि फूलन देवी की मूर्तियों को लेकर मुकेश सहनी आजकल चर्चा में हैं.

उन्होंने कहा कि फूलन देवी 10 साल की उम्र से संघर्ष करके ऊंचे मुकाम पर पहुंची थी. फूलन देवी को जनता ने सांसद भी बनाया था. सहनी ने कहा कि फूलन देवी की मूर्ति लगाकर निषाद समाज उनके प्रति सम्मान प्रदर्शित कर रहा है.

मंत्री ने यह भी कहा कि 10 दिनों के अंदर औरंगाबाद जिलें में भी फूलन देवी की प्रतिमा स्थापित की जाएगी. उन्होंने कहा कि वह बिहार की जनता की सेवा के लिए 18-18 घंटो तक काम कर रहे हैं.