नेपाल में भारी बारिश से बिहार में फिर बाढ़ का खतरा

Patna (TBN – The Bihar Now डेस्क) | मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में निम्न दाब का केंद्र और मजबूत हो गया है इस कारण मध्य पूर्व और पूर्वोत्तर भारत में भारी बारिश की आशंका है. खासतौर पर उड़ीसा पश्चिम बंगाल असम के साथ बिहार के कई इलाकों में भारी बारिश के आसार हैं. वहीं बिहार की कई नदियां अब भी उफान पर हैं और बाढ़ग्रस्त इलाके के लोग परेशान हैं. इस बीच मौसम विभाग ने एक बार फिर बारिश को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है. वहीं एक बार फिर नेपाल में दो दिनों से जोरदार बारिश ने बिहार के कई जिलों के लोगों की धड़कने तेज कर दी हैं. दरअसल बिहार में, गंगा, बागमती, बूढ़ी गंडक जैसी प्रमुख नदियां कई स्थानों पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं और अब नेपाल के साथ ही बिहार में फिर भारी बारिश होने की मौसम विभाग की चेतावनी लोगों को डरा रही है.

बता दें कि राज्य के 16 जिलों में 81.59 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. राज्य में बाढ़ के कारण अब तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है. भले ही कई इलाकों में बाढ़ का पानी कम हुआ है लेकिन अभी भी बाढ़ग्रस्त इलाकों के खेत बाढ़ के पानी से लबालब भरे हैं. राज्य के 16 जिलों के 130 प्रखंडों में अभी भी बाढ़ का पानी फैला हुआ है, जिससे करीब 81 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हैं. बाढ़ से अब तक 25 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि आठ लाख हेक्टेयर में लगी फसल पूरी तरह बाढ़ के पानी में डूब गई है.

बाढ़ की विभीषिका के बीच कोरोना संक्रमण का आंकड़ा भी बढ़ता ही जा रहा है. बिहार के सभी 38 जिलों में हर दिन कोरोना के नये मरीज मिल रहे हैं. आलम ये है कि अब तक एक लाख 15 हजार से अधिक संक्रमित मिल चुके हैं. वहीं दूसरी ओर कई जिलों में लोग बाढ़ की विभीषिका से जूझ रहे हैं. बता दें कि कोरोना संक्रमितों की संख्या भी 1 लाख 15 से अधिक हो गई है. हालांकि अच्छी खबर ये है कि कुल 1 लाख 15 हजार 210 कोरोना मरीजों में 88163 स्वस्थ होकर वापस घर लौट चुके हैं. अभी बिहार में कुल सक्रिय मरीजों की संख्या 26 हजार 473 है जबकि 574 लोगों की मौत हो चुकी है.

Advertisements