मुजफ्फरपुर में जहरीली शराब पीने से चार लोगों की हुई मौत

मुजफ्फरपुर (TBN – The Bihar Now डेस्क)| जिले के सरैया थाना क्षेत्र के रूपौली में गुरुवार की रात संदिग्ध स्थिति में दो लोगों की मौत हो गई. वहीं शुक्रवार की सुबह दो और लोगो की मौत हो गई. आशंका जताई जा रही है कि जहरीली शराब के सेवन से मौत हुई है.

पुलिस अधिकारी प्रथम दृष्टया जहरीली शराब की बात स्वीकार करते हुए पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही मौत के सही कारणों का पता चलने की बात कह रहे है. घटना के बाद गांव में अफरातफरी का माहौल बना हुआ है. देर रात एसएसपी जयंत कांत व एसडीपीओ राजेश शर्मा गांव में पहुंचकर सभी बिंदुओं पर जांच की.

इससे पहले मुजफ्फरपुर में ही इस वर्ष मार्च माह के अंत में कटरा प्रखंड के दरगाह टोला में नौ लोगों की मौत हो गई थी. उसमें भी जहरीली शराब के सेवन की आशंका व्यक्त की गई थी.

शुक्रवार की सुबह हुई दो लोगों की मौत

बताया गया है कि बुधवार की रात गांव में ही पार्टी हुई थी. वहीं पर पार्टी में सबने खाया पिया था. कहा जा रहा कि पार्टी में ही खाने के दौरान सबने शराब पी थी. इसके एक घंटे बाद से सभी की तबीयत बिगड़ने लगी. गुरुवार की सुबह स्थानीय चिकित्सक से इलाज शुरू कराया गया. गुरुवार देर शाम स्थिति और बिगड़ गई तो तीनों व्यक्तियों को शहर के एक अस्पताल में इलाज को भर्ती कराया गया. मगर इलाज के दौरान रात में मुन्ना सिंह एवं अवनीश सिंह की मौत हो गई.

यह भी पढ़ें| पटना: एसएसपी ऑफिस के बाहर युवक ने खाया जहर, अस्पताल में भर्ती, हालत नाजुक

वहीं शुक्रवार की सुबह व‍िपुल और धीरेश सिंह की मौत हो गई. कहा जा रहा है कि मीनापुर थाना क्षेत्र के तेंगरहा गांव निवासी कैलाश सिंह के पुत्र धीरेश सिंह की भी मौत हुई है. धीरेश का ननिहाल रूपौली में है. वह भी इस पार्टी में शामिल था. मीनापुर और सरैया पुलिस ने टेंगराहा पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. उसकी पत्नी और स्वजनों को थाने लाकर पूछताछ की जा रही है. सूचना पर सरैया थाने की पुलिस गांव में कैम्प कर रही है.

एसएसपी जयंतकांत ने बताया कि पुलिस जो सूचना मिली थी, उसके आधार पर कार्यवाई की जा रही है.तीन लोगों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. जिस जगह सभी शराब पी रहे थे, उस जगह को भी सील कर दिया गया है. पंचायत समिति के एक सदस्य को भी गिरफ्तार किया गया है. अभी तक दो लोगो की गिरफ्तारी हुई है. कुल 4 लोगो की मौत हुई है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मामला स्पष्ट हो पाएगा.