सुसाइड से पहले बनाया वीडियो, फिर ट्रेन के आगे कूदा

आरा (TBN – The Bihar Now डेस्क)| दानापुर रेलखंड के बनाही स्टेशन से पश्चिम डाउन लाइन पर शनिवार की देर शाम ट्रेन से कटकर एक युवक की मौत हो गई. घटना को लेकर लोगों के बीच काफी देर तक अफरातफरी मची रही.

इसकी सूचना मिलते ही आरा की रेल पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर उसका पोस्टमार्टम सदर अस्पताल में करवाया. युवक बक्सर जिले के ब्रह्मपुर थाना क्षेत्र के चौबे चक गांव का रहने वाला चुलबुल चौबे (22 वर्ष) था.

घटना के संबंध में बताया जाता कि चुलबुल कुछ सालों से अपनी मां के साथ अपने मामा के गांव शाहपुर थाना क्षेत्र के गोपालपुर में ही रह रहा था. उसने शनिवार को बिहियां स्टेशन पर आत्महत्या कर अपनी जान दी है. आत्महत्या से पहले उसने अपनी मां के नाम एक 2 मिनट 53 सेकेंड का वीडियो बनाया और उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया है.

डॉक्टर जीत गया, मैं हार गया

वीडियो में युवक ने कहा, “मां आज मैं आत्महत्या कर रहा हूं उसके पीछे किसी लड़की का हाथ नहीं है. लकड़ी का कोई राज नहीं है. आत्महत्या का कारण एक डॉक्टर है जिसने मुझे कहीं का नहीं छोड़ा. कहीं का रहने नहीं दिया. डॉक्टर के पास पैसा है, पावर है. मेरे पास कुछ नहीं है, जिसके चलते डॉक्टर आज जीत गया और मैं हार गया.”

युवक ने आगे भोजपुरी में कहा, “हम शुरू से ही नालायक रहि, आज भी बानी. तोहर लायक लईका छोटे बा, ओकरे के पढ़िए, ओकरे के आगे बढ़इह सन. छोटे पर काम का दबाव नहीं देना क्योंकि काम का प्रेशर बहुत बड़ा प्रेशर होता है. जब लड़का घर से बाहर निकल जाता है तब से सबका प्रेशर लेकर चलना पड़ता है.

यह भी पढ़ें| घायल मॉडल मोना राय की इलाज के दौरान मौत, बेटी के सामने ही मारी थी गोली

युवक ने कहा, “आज तुमसे 100 रुपये मांगे तो तुम दी हो, पर इतना डांट-डपटकर दी हो कि हम जान गए हैं कि मेरा औकात क्या है. ठीक बा मां हम बानी बिहियां स्टेशन पर. तोहनी के 100 रुपया देवे में एतना बुझाता. डॉक्टर जो बोल रहा है सही है पर जो हम बोल रहे हैं वो गलत है.” इतना कहकर युवक ने रोते-रोते आत्महत्या कर ली. हालांकि वीडियो में युवक डॉक्टर के पीछे की क्या कहानी बताना चाह रहा यह साफ नहीं हुआ है.
(इनपुट-एबी)