पटना: फिर गोली मारकर दो की हत्या, मामला भूमि-विवाद का

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| राजधानी और आसपास के इलाकों में अपराधियों का तांडव बढ़ता ही जा रहा है. शनिवार सुबह जहां पटनासिटी के आलमगंज में एक युवक की दिन-दहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई, वहीं शनिवार को ही देर रात बिहटा में तीन युवकों को गोली मार दी गई. इनमें से दो की मौत घटनास्थल पर ही ही गई जबकि तीसरा गंभीर रूप से जख्मी हो गया. यह घटना बिहटा के रामबाग स्थित मचास्वामी मठ के पास किशनपुर गांव में हुई.

बताया जा रहा है कि किसी भूमि विवाद में अपराधियों ने तीनों युवकों पर अंधाधुंध गोली चलाई. प्रदीप कुमार और राहुल कुमार नाम के युवकों की मौत तो घटनास्थल पर ही हो गई. तीसरे युवक को गंभीरावस्था में स्थानीय प्राइवेट अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया.

दोनों मृतक बिहटा थाना क्षेत्र के किशुनपुर के रहनेवाले थे. गोलीबारी की इस घटना में आरजेडी नेता भाई वीरेंद्र का भतीजा सोनू का नाम भी सामने आया है.

जानकारी के मुताबिक, मृतक युवकों, प्रदीप और राहुल का तीन कट्ठा जमीन पर किसी के साथ विवाद चल रहा था. इन दोनों ने इस जमीन की रजिस्ट्री कराने का बाद बॉउन्ड्री बनवा रहे थे. शनिवार को एक ही दिन में करीब 10 फीट की बॉउन्ड्री बन गई थी. दोनों शनिवार रात घटनास्थल पर ही सो गए थे.

Also Read| बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल को अस्पताल से मिली छुट्टी, लौटे घर

प्रकाश सिंह, जो मृतक के भाई हैं, ने बताया कि घटना में स्थानीय लोगों का ही हाथ है जिन्होंने मिलकर यह करवाया है. प्रकाश के अनुसार, गोलीबारी की इस घटना में आरजेडी नेता भाई वीरेंद्र का भतीजा सोनू भी शमिल है. उन्होंने मांग की है कि पुलिस जल्द से जल्द जांच कर दोषियों को सजा दिलवाए.

पटना-आरा मार्ग को किया जाम

शनिवार देर रात हुए इस घटना से बौखलाए लोगों ने सुबह से ही पटना-आरा मार्ग को जाम कर दिया. वे पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे. परिजन और स्थानीय लोगों का हंगामा जारी रहा. साथ ही, इस घटना से गांव के लोग दहशत में हैं.

बताया जा रहा है कि भूमि-विवाद का यह मामला पिछले दो-तीन दिनों से गरमाया हुआ था और इसकी सूचना स्थानीय थाने को भी दी गई थी. लेकिन थाने में जब बात नहीं सुनी गई तो सीनियर ऑफिसरों को इस बारे में बताया गया. लेकिन पुलिस के इस मामले में गंभीर नहीं रहने से दो युवकों की हत्या हो गई और तीसरा तीसरा जिंदगी और मौत से जूझ रहा है.

बहरहाल, गोलीबारी और हत्या की इस घटना के बाद शनिवार रात से ही पुलिस मौके पर कैंप कर रही है. दानापुर के डीएसपी संतोष कुमार भी घटनास्थल पर पहुंचे. मृतक के परिजन पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगा रहें हैं.