थम नहीं रहा शराब तस्करी का सिलसिला

नालंदा (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) :-  बिहार में शराबबंदी क़ानून की एक बार फिर से धज्जियाँ उड़ा दी गयीं हैं. पुलिस प्रशासन की लगातार चौकसी के बाद भी बिहार में भारी मात्रा में शराब का पाया जाना मानो ऐसा प्रतीत होता है जैसे शराबबंदी क़ानून मात्र सिर्फ शब्दों में सिमटकर रह गया है. शराब तस्करी की ताज़ा खबर नालंदा से आ रही है जिसमे पुलिस के द्वारा कार्रवाई करते हुए अंग्रेजी शराब की बड़ी खेप बरामद की गयी है.

मिली जानकारी के अनुसार चण्डी थाना क्षेत्र के बीहटा सरमेरा फोरलेन के जैतीपुर मोड़ के पास पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए ऑटो से अंग्रेजी शराब बरामद की है. पुलिस ने ऑटो के ड्राइवर को भी गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस की पूछताछ में गिरफ्तार ड्राइवर ने खुद को शैलेंद्र पांडे पुत्र बाल्मीकि पांडे, मानपुर थाना क्षेत्र के तेतरामा गांव का निवासी बताया है.

इस मामले के बारे में जानकारी देते हुए थानाध्यक्ष चंचल कुमार ने बताया कि, “पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि बिक्री के लिए टेंपो से विदेशी शराब की खेप की ढुलाई हो रही है. इसी सूचना के आधार पर चण्डी पुलिस ने जैतीपुर मोड़ के पास वाहन चेकिंग अभियान लगाया. वाहन चेकिंग के क्रम में टेंपो पर कार्टून में रखें 138 बोतल अंग्रेजी शराब बरामद हुआ”. फिलहाल पुलिस गिरफ्तार किये गए आरोपी से पूछताछ कर रही है और पता लगा रही है कि शारबबंदी क़ानून लागू होने के बाद भी शराब की तस्करी में कौन-कौन शामिल हैं.

बता दें बिहार में शारबबंदी के बावजूद भी शराब की तस्करी लगातार जारी है. शराब के तस्करों को पकडे जाने का डर मानो ख़त्म सा हो गया है और तस्कर नई नई तरकीब लगाकर शराब की तस्करी कर रहे हैं. हाल ही में चेकिंग के दौरान एक कार से 45 बोतल शराब बरामद की गयी थी लेकिन सबसे बड़ी चौकाने वाली बात है जिस कार से शराब की बोतलें बरामद की गयी थी उस पर कल्याण विभाग का बोर्ड लगा हुआ था.