पुलिस पर पथराव, होगी सख्त कार्यवाई – SP लिपि सिंह

मुंगेर (TBN रिपोर्ट) | बिहार में एक तरफ जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम दिन रात एक करके कोरोना को हराने की कोशिश में लगे हैं. वहीँ दूसरी तरफ कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा हंगामा मचा कर पुलिस व मेडिकल टीम पर पत्थरबाजी करने का मामला सामने आया है. मामले के अनुसार गुरुवार को सर्दी, खांसी व बुखार से पीड़ित एक बच्ची की मौत हजरतगंज में हो गई थी. जिसके बाद बच्ची की मौत की सूचना मिलते ही मेडिकल टीम व पुलिस सैंपल जांच व परिजनों को आइसोलेशन करने के लिए उनके निवास स्थान पर पहुंची जहाँ कुछ स्थानीय असामाजिक तत्वों ने हंगामा खड़ा कर पुलिस व मेडिकल टीम पर हमला कर दिया. जिसमे असामाजिक तत्वों के द्वारा पत्थरबाजी करने से पुलिस वाहन के शीशे भी टूट गए. इस मामले में एसपी लिपि सिंह ने सख्त कार्यवाई करते हुए इस घटना में शामिल सभी लोगों को चिह्नित कर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. इसके साथ ही एसपी ने असमाजिक तत्वों को पुलिस और प्रशासन के काम में बाधा न बनने की सख्त चेतावनी भी दी है.

घटना के बारे में जानकारी देते हुए एसपी लिपि सिंह ने बताया कि “कासिम बाजार इलाके में एक बच्ची की मौत के बाद कोविड-19 प्रावधानों के तहत परिवार के सदस्यों का आइसोलेशन बेहद जरूरी था. प्रशासन और पुलिस टीम मेडिकल टीम इसी कार्य में गई थी. असामाजिक तत्वों द्वारा स्थानीय लोगों को भड़का कर और प्रशासन पर अनर्गल आरोप लगाकर पथराव कर दिया गया. पथराव में पुलिस की एक जीप क्षतिग्रस्त हुई है. घटना में शामिल दोषियों की पहचान कर ली गयी है तथा उनके खिलाफ आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जा रही है. घटना में शामिल चार असामाजिक तत्वों को नामजद अभियुक्त बनाया गया है जबकि 100 अज्ञात अभियुक्त बनाए गए हैं”.

एसपी लिपि सिंह ने कहा कि “स्थानीय लोग असामाजिक तत्वों के बहकावे में नहीं आएं और प्रशासन के साथ सहयोग करें. कोविड-19 प्रावधानों के तहत यदि किसी व्यक्ति की स्वाभाविक मौत भी होती है तो निर्धारित गाइडलाइन के तहत ही आवश्यक कार्रवाई की जानी है. हजरतगंज गली संख्या 15 में एक व्यक्ति को कोरोना पॉज़िटिव पाया गया था. लिहाजा प्रशासन की टीम स्थानीय लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए मृतक बच्ची के परिवार को आइसोलेट करने गई थी. आम लोगों से अपील है कि किसी के बहकावे में नहीं आएं और अफवाह के शिकार न बनें”.

एसपी सिंह ने कहा कि  “मुंगेर पुलिस हर उपद्रवी और असामाजिक तत्व की गतिविधि पर निगरानी कर रही है तथा इनके खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी. हर क्वॉरेंटाइन सेंटर में पर्याप्त व्यवस्था है. क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखे जाने वाले लोगों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होने दी जाएगी. आम लोगों से अपील है कि बेबुनियाद बातें अफवाहों के शिकार न बनें और प्रशासन के साथ सहयोग कर सजग और जिम्मेदार नागरिक की भूमिका निभाएं”.

Advertisements