राजधानी के अटल पथ पर पूर्व मंत्री की कंपनी के 41 लाख रुपये की लूट

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| सोमवार दोपहर राजधानी पटना में अपराधियों ने एक बड़ी लूट की घटना को अंजाम दिया. पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र (Patliputra PS) के अटल पथ पर अपराधियों ने पूर्व मंत्री वीणा शाही (Veena Shahi) की कंपनी माँ जानकी ट्रांसपोर्ट सर्विस (Maa Janki Transport Service) के 41 लाख लूट कर फरार हो गए.

घटनाक्रम के बारे में कंपनी के डाइरेक्टर हर्ष ने बताया कि 3 बाइक से आए अपराधी 6 की संख्या में अपराधियों ने पिस्टल के बल पर गाड़ी को घेर लिया और मारपीट कर 41 लाख रुपए लूटकर फरार हो गए.

सोमवार दोपहर तीन बजकर पांच मिनट पर दिनदहाड़े यह घटना हुई. पूर्व मंत्री के मैनेजर अनुनय कुमार, कर्मी संजीत कुमार और गाड़ी का चालक चंदन कुमार उनके पाटलिपुत्र कॉलोनी स्थित मकान नंबर 151 से रुपये लेकर आर ब्लॉक स्थित सोन भवन में बैंक ऑफ इंडिया ब्रांच में डिपोजिट करने जा रहे थे.

कंपनी के मैनेजर ने बताया कि अटल पथ के न्यू पाटलिपुत्र स्थित कट-प्वाइंट पर एक बाइक सवार उनसे यह कह कर उलझ पड़ा कि उसने गाड़ी में टक्कर क्यों मारा. बाइक सवार युवक बार-बार टक्कर मारने की बात कहते हुए कंपनी के चालक चंदन से उलझता रहा और कार की बराबरी में ही बाइक को चलाता रहा.

थोड़ी दूर आगे बढऩे के बाद उलझने वाले युवक ने स्टाफ के कार को ओवरटेक कर लिया और उसे कार के ठीक सामने रोक दिया जिससे उनकी कार रुक गई. इसी बीच चार और अपराधी दो अपाची मोटरसाइकिल से वहां पहुंच गए और उनकी गाड़ी को आगे से घेर लिया.

यह भी पढ़ें| आज से नए गाइडलाइंस जारी, शादी और श्राद्ध में लोगों की कोई पाबंदी नहीं – जानिए पूरी जानकारी यहाँ

अपराधियों ने गोली मारने की धमकी देते हुये गाड़ी का गेट खुलवाया. पिछली सीट पर बैठे संजीत के पास झोले में पैसे रखे थे. उसके बाद 41 लाख रूपया लूट कर सभी अपराधी अटल पथ से ही आर ब्लॉक की ओर भाग निकले.

उसने कुछ दूरी तक लूटेरों का पीछा भी किया लेकिन उसे पकडऩे में सफलता नहीं मिली. मैनेजर के अनुसार लूटेरों ने कंपनी का चेक भी लूट लिया. जानकारी के अनुसार लूटी गई रकम कंपनी की थी जिसे हाजीपुर से पटना लाने के बाद बैंक में जमा किया जाना था. घटना को अंजाम देने वालों ने मास्क व हेलमेट पहन रखा था.

व्यस्त सड़कों में शुमार होने वाले अटल पथ पर अचानक हुई इस वारदात के होने के कुछ देर बाद तक लोगों को समझ ही नहीं आया कि आखिर हुआ क्या है? कोई लड़ाई-झगड़े की बात कहता रहा तो कोई सड़क हादसे की बात कहता रहा. हालांकि इस दौरान मौके पर लोगों की भारी भीड़ लग गई और वारदात का पता चलते ही हर तरफ सनसनी फैल गई.

घटना की जानकारी मिलने पर कई थानों की पुलिस के साथ ही एसपी सिटी सेंट्रल अंबरीश राहुल ने मौके पर पहुंचकर छानबीन शुरू की. एसपी सिटी के मुताबिक घटना की सूचना मिलते ही पुलिस हरकत में आयी. अपराधियों की तलाश की जा रही है. उन्होंने कहा कि लूट की इस घटना में संलिप्त अपराधियों को पहचान कर जल्द ही कार्रवाई की जायेगी.

एक बात पर यह भी संशय यह है कि सिटी एसपी सेंट्रल के अनुसार वादी ने 41 लाख रूपये लूटे जाने की बात कही जबकि पीडि़त मैनेजर ने 45 लाख के करीब रूपये लूटे जाने की बात कही.