हत्या के विरोध में सड़क जाम, एंबुलेंस में तोड़फोड़, मीडियाकर्मी घायल

आरा (TBN – The Bihar Now डेस्क)| आरा में मंगलवार शाम को दो व्यक्तियों की हत्या कर दी गई. हत्या से गुस्साए लोगों ने आरा-बक्सर रोड को 3 घंटे तक जाम कर बदमाशों को पकड़ने की माँग की.

सड़क जाम कर रहे परिजनों के साथ लोगों ने वहां से गुजरने वाली एंबुलेंस तक को नहीं छोड़ा और उसमें तोड़फोड़ कर डाला. किसी तरह एंबुलेंस वाला उसमें मौजूद मरीज को लेकर वहां से निकलने में कामयाब रहा. इतना ही नहीं घटना की सूचना के बाद पहुंचे मीडियाकर्मियों पर भी भीड़ में से कुछ लोगों ने हमला कर दिया, जिसमें एक मीडियाकर्मी को गंभीर चोट आयी है.

आरा के उदवंतनगर थाना क्षेत्र के पकड़िया बर के पास स्थित आरा-बक्सर मुख्य मार्ग पर पासवान चौक को 2 लोगों की हत्या से गुस्साए लोगों ने सड़क जाम कर 3 घंटे तक बवाल काटा.

परिजनों ने बताया कि मंगलवार शाम को चौकीपुर निवासी नथूनी चौधरी का 30 वर्षीय पुत्र अनिल चौधरी और चंदवा निवासी बसंत पासवान का 32 वर्षीय पुत्र सोनू पासवान शाम को घर से टहलने के लिए जगजीवन हाल्ट गए थे. लगभग शाम 7 बजे के बाद जगजीवन हाल्ट लगभग के समीप दोनो को एक बाइक सवार ने गोली मार दी और फरार हो गया. गोली लगने के बाद सोनू पासवान की मौत हो गई जबकि अनिल चौधरी घायल हो गया. जिसको सदर अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया जहां वो भी इलाज के दौरान दम तोड़ दिया.

मृतक सोनू को लेकर परिजन एसपी कार्यालय से होते हुए प्रशासन के विरुद्ध नारा लगाते पासवान चौक पहुंचे और फिर ग्रामीणों ने शव के साथ रोड जाम कर दिया. लोगों ने टायर जलाकर आवागमन को बाधित कर दिया और जिला प्रशासन को घटना स्थल पर बुलाने की माँग करने लगे.

परिजनों का आरोप था कि थाना को फोन करने के बाद भी कोई घटना स्थल पर नहीं आए. लगभग 8 बजे से रोड जाम करने वाले लोगों के पास एसडीपीओ हिमांशु पांच थानों की पुलिस के साथ पहुंचे. उनके साथ अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी पहुंचे जिन्होंने परिजनों और ग्रामीणों को आश्वासन दिलाया कि अपराधियों पर कोई नरमी नही बरती जाएगी और जल्द ही उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा.

प्रत्यक्षदर्शियो की मानें तो तीन दिनों से पासवान चौक के इलाके में अपराधियों द्वारा हवाई फायरिंग कर दहशत कायम किया जा रहा था. इसलिए ग्रामीण थानेदार को बर्खास्त करने की भी मांग कर रहे थे. काफी समझाने के लगभग 11.30 बजे आवागमन चालू हुआ और शव को प्रशासन ने पोस्टमार्टम के लिए भेजा.